कोका-कोला की कॉफी मार्केट में एंट्री, कोस्टा कॉफी संग की डील

नई दिल्लीः विश्व की सबसे बड़ी बेवरेजेस कंपनी कोका कोला ने ब्रिटेन की प्रमुख कॉफी शृंखला कोस्टा के अधिग्रहण की घोषणा की है। इस सौदे का आकार 5.1 अरब डॉलर बताया गया है। इससे काफी प्रतिस्पर्धा वाले खुदरा कॉफी बाजार तक कोका कोला की सीधी पहुंच हो जाएगी जो उसके लिए एक नया क्षेत्र है। यह पिछले आठ साल में कोका कोला का सबसे बड़ा अधिग्रहण है।

कोस्टा के साथ यह डील कोक को नए अवसर देगी। अभी मीठे पेय के तौर पर स्प्राइट, फैंटा, कोका-कोला बाजार में हैं। लेकिन ग्राहकों के टेस्ट में बदलाव के साथ ग्रोथ के लिए कुछ बदलाव करने जरूरी हैं। पेप्सिको ने इसी महीने सोडास्ट्रीम को खरीदने का फैसला किया है। यह कंपनी कॉर्बोनेट-वॉटर डिस्पेंसर का काम करती है। यह डील 3.2 अरब डॉलर में की गई है। कोका कोला के सीईओ ने कहा कि कोस्टा के साथ यह डील बहुत फायदेमंद साबित होगी। कॉफी के बाजार में अभी ग्रोथ के बहुत मौके हैं।

जानकारों का कहना है कि कॉफी के बिजनसमें कोस्टा अग्रणी थी इसलिए कोक भी इसमें अपनी किस्मत आजमाना चाहती थी। कोक कोस्टा ब्रैंड की वैश्विक पहुंच का फायदा उठाना चाहती है क्योंकि सुपर मार्केट से लेकर एयरपोर्ट तक इसे पसंद किया जाता है। मार्केटिंग में कोक की दक्षता का फायदा कोस्टा को भी मिल सकता है। दोनों बिजनस के एक दूसरे के साथ आने से इसमें और वृद्धि हो सकती है। 

Related Stories:

RELATED सितंबर में 30 में से 16 प्रमुख क्षेत्रों का निर्यात कम हुआ