CM ने पर्यटन विभाग की वैबसाइट व कैलेंडर जारी करने के बाद अधिकारियों को दिए निर्देश

शिमला (अभिषेक): मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अधिकारियों को प्रदेश की पर्यटन क्षमता का प्रचार यू-ट्यूब, टविटर, इंस्टाग्रांम, फेसबुक आदि जैसे सोशल मीडिया में करने के निर्देश दिए। उन्होंने वैबसाइट के माध्यम से नई जगहों व गंतव्यों का प्रचार करने के अतिरिक्त इसका समय-समय पर अद्यतन करने के निर्देश दिए, जिससे कि प्रदेश में आ रहे लोगों को सही जानकारी उपलब्ध हो सके। मंगलवार को पर्यटन विभाग की वैबसाइट व कैलेंडर जारी करने के बाद मुख्यमंत्री ने यह निर्देश जारी किए। उन्होंने इस दौरान पर्यटकों की सुविधा के लिए प्रदेश के होटलों व होम-स्टे को सही तरीके से जोड़ने पर बल दिया। 

उन्होंने कहा कि प्रकृति ने हिमाचल प्रदेश को असीम पर्यटन क्षमता से नवाजा है तथा इसका पूरी तरह से दोहन राज्य के लिए न केवल लाभप्रद साबित हो सकता है, बल्कि इससे राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार और स्वरोजगार के अवसर पैदा होंगे। मुख्यमंत्री ने इस दौरान कहा कि प्रदेश सरकार ने पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए कई पहल की हैं और लगभग 1900 करोड़ रुपए की एशियाई विकास बैंक की सहायता से प्रदेश के कम पहचान वाले व अनछुए क्षेत्रों का पर्यटन की दृष्टि से दोहन किया जा रहा है। इस मौके पर अतिरिक्त मुख्य सचिव डा. श्रीकांत बाल्दी और राम सुभग सिंह मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव संजय कुंडू, पर्यटन विभाग के निदेशक सी.पी. वर्मा, एच.पी.टी.डी.सी. की प्रबंध निदेशक कुमुद सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान निजी सचिव विनय सिंह, अतिरिक्त निदेशक पर्यटन मनोज कुमार, रविंद्र मखईक सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

नई फीचर्स से लैस पर्यटन विभाग की वैबसाइट लांच

पर्यटन विभाग की नई फीचर्स से लैस वैबसाइट मंगलवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने लांच की। इस वैबसाईट में सुरक्षा के अनूठे प्रावधान जैसे कि लॉग-इन ब्रूट फोर्स प्रोटैक्शन, कोर कोड तथा बोटस को रोकने व निदान के लिए केपचा है। यह वैबसाइट शत-प्रतिशत मोबाइल फोन मित्र है। इसमें सभी उपकरणों के लिए एक समान कोड बेस है तथा इसके संचालन के लिए मोबाइल में अलग से साईट की आवश्यकता नहीं है। इस साईट में फुल स्क्रीन इमेज गैलरी भी है, जिसके द्वारा पर्यटन से संबंधित चित्र देखे जा सकते हैं तथा इस वैबसाइट में आसानी से जोड़ने, संपादित करने, मिटाने के लिए एकीकृत विषय वस्तु प्रबंधन प्रणाली है।

पर्यटन विभाग का वर्ष 2019 का कैलेंडर भी जारी

मुख्यमंत्री ने पर्यटन विभाग का वर्ष 2019 का कैलेंडर भी जारी किया। विभाग द्वारा तैयार किया गया कैलेंडर विभिन्न चित्रों जैसे रिवालसर झील मंडी, टाऊन हाल शिमला, फाग मेला किन्नौर, शिमला जाती हुई ट्रेन, तीर्थन घाटी कुल्लू, स्वयं सहायता समूहों द्वारा बनाए गए चीड़ की पत्तियों के उत्पाद, शिमला का रिज मैदान, जजुराना पक्षी, डायना पार्क में पर्वतीय बाइकिंग, मंडी, कुल्लू दशहरा, सिरमौर जिले का चूड़धार और कुल्लू घाटी के होम स्टे का मिश्रण है।


 

Related Stories:

RELATED 15 एच.सी.एस. अधिकारियों का तबादला