छत्तीसगढ़ सरकार खरीदेगी 88 लाख टन धान

बिजनेस डेस्कः  छत्तीसगढ़ सरकार ने इस वर्ष किसानों से लगभग 88 लाख टन धान खरीदने का फैसला किया है। राज्य के कृषि, जल संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री रवींद्र चौबे ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आयोजित मंत्रिपरिषद की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।  चौबे ने बताया कि राज्य में किसानों से 75 लाख टन धान उपार्जन का लक्ष्य रखा गया था। अब तक 71 लाख टन धान की खरीदी की जा चुकी है। धान खरीदी के लिए 10 दिन का समय शेष है। 31 जनवरी तक लगभग 88 लाख टन धान की खरीदी का निर्णय लिया गया है।  

मंत्री ने बताया कि केंद्रीय पूल में चावल की मात्रा 24 लाख टन से बढ़ाकर 32 लाख टन करने केंद्र को दोबारा पत्र लिखा जाएगा। केंद्रीय पूल में 24 लाख टन धान का लक्ष्य था। केंद्र और राज्य पूल में चावल भेजने के बाद बचत धान का उपयोग नागरिक आर्पूति निगम के माध्यम से किया जाएगा।  उन्होंने बताया कि राज्य के उद्योगों और स्थानीय उत्पाद को बढ़ावा देने के लिये शासकीय विभागों में सरकारी ई-पोर्टल जेम के स्थान पर छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम (सीएसआईडीसी) से सामग्री खरीदी का निर्णय लिया गया। इसके लिये छत्तीसगढ़ भंडार क्रय नियम 2002 में संशोधन किया गया है।

छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम द्वारा छह माह के भीतर आनलाईन सामग्री क्रय करने के लिये नया पोर्टल बनाया जाएगा।  मंत्री ने बताया कि मंत्रिमंडल की बैठक में पांचवी अनुसूचित क्षेत्र सरगुजा और बस्तर संभाग के साथ-साथ कोरबा जिले में तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों की जिला कैडर में  भर्ती की अवधि को दो वर्ष बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।  

Related Stories:

RELATED शिक्षक भर्ती में छत्तीसगढ़ के लोगों को मिलेगा पर्याप्त मौका