बोर्ड परिक्षाओं में नकल चली, तो होगी कार्रवाई: कलेक्टर

मुरैना: मध्यप्रदेश के मुरैना जिला प्रशासन ने एक मार्च से शुरू होने वाली बोर्ड परीक्षाओं में नकल चलने की स्थिति में सख्त कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर प्रियंका दास ने केंद्राध्यक्ष, पर्यवेक्षक, ऐसी, सीएसी की बैठक में यह निर्देश दिए।  

उन्होंने कहा कि जिले में 77 परीक्षा केन्द्रों में से 44 अति संवेदनशील और 12 संवेदनशील हैं। यहां हाई स्कूल में 32 हजार 546 और हायर सेकेण्डरी में 25 हजार 383 छात्र परीक्षा देंगे। श्रीमती दास ने कहा कि की केन्द्राध्यक्षों की ड्यूटी 22 फरवरी को बोर्ड द्वारा तय कर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि केंद्राध्यक्ष और राजस्व अधिकारी परीक्षा केंद्र की परिधि के अंतर्गत आने वाले- अपने-अपने केंद्रों का परीक्षा से पहले ही भ्रमण कर रिपोर्ट देंगें।  

 

इस बार परीक्षा के दौरान परीक्षा हॉल में मीडिया कर्मियों का प्रवेश पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा वे सिर्फ बाहर से फोटो ग्राफी कर सकेंगे। उधर, बैठक में मुरैना के पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने कहा कि परीक्षा केंद्र के 200 मीटर के दायरे में निषेद्याज्ञा लागू रहेगी। उन्होंने बताया कि ड्यूटी देने वाले टीचर, परीक्षा देने वाले छात्र के अलावा परीक्षा भवन में अन्य कोई व्यक्ति पाया गया तो उस व्यक्ति के विरुद्ध परीक्षा अधिनियम के तहत कठोर कार्यवाही की जाएगी। बैठक के दौरान कलेक्टर ने कड़े लहजे में कहा कि परीक्षा केंद्र के भीतर अगर नकल हुई तो उसके लिये केंद्राध्यक्ष पूरी तरह से जुम्मेदार होगा और उसके खिलाफ सख्त से सख्त  कार्रवाई की जाएगी।

Related Stories:

RELATED एसडीएम ने बोर्ड परीक्षाओं में नकल करवाते शिक्षकों को पकड़ा