Kundli Tv- चाणक्य: एेसे इंसान होते हैं धर्म के सबसे बड़े दुश्मन

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें VIDEO)
आचार्य चाणक्य देश के उन विद्वानों में से एक माने गए हैं, जिन्होंने अपने ज्ञान के बल-बूते पर इतिहास के पन्नों पर अपना नाम दर्ज किया। इतना ही नहीं इनकी बातें इतनी लाभदायक थी कि इन्होंने चाणक्य नीति की नाम की पुस्तक रची जिसमें मानव जीवन से संबंधित हर वो बात पढ़ने को मिलती है, जो उसके जीवन को बेहतर बना सकती हैं। तो आईए जानते हैं चाणक्य की एक एेेसी नीति जिसमें उन्होंने बताया है कि कैसे लोग धर्म के दुश्मन कहलाते हैं। 
PunjabKesari
श्लोक-
तद्विपरोऽनर्थसेवी। 

अर्थात-

जो व्यक्ति धर्म और अर्थ की वृद्धि में रुकावट डालने वाले काम का दास बन जाता है, उसकी सदा ही हानि होती है अर्थात काम को धर्म और अर्थ का विरोधी नहीं होना चाहिए।
PunjabKesari
घर की सीढ़ियां भी बन सकती हैं मौत का कारण (देखें VIDEO)

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!