पेट्रोल व डीजल एक्साइज ड्यूटी घटाए केंद्र सरकार: परनीत कौर

जालंधर(धवन): पूर्व केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री परनीत कौर ने कहा है कि पेट्रोल व डीजल की कीमतें बेकाबू होने से आम जनता में हाहाकार मची हुई है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में कटौती करने के लिए एक्साइज ड्यूटी में तत्काल कमी लानी चाहिए ताकि आम जनता को महंगाई से राहत मिल सके। 

उन्होंने आज कहा कि जब केंद्र में यू.पी.ए. की सरकार थी तो रोजाना उसके खिलाफ भाजपा द्वारा महंगाई को लेकर प्रचार किया जाता था। तब तत्कालीन प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह ने महंगाई पर काबू पाने के लिए एक्साइज ड्यूटी में कटौती की थी। उन्होंने कहा कि राज्य में 19 सितम्ंबर को होने जा रहे पंचायती चुनावों में कांग्रेस प्रबल बहुमत हासिल करने में कामयाब होगी क्योंकि जनता को पता है कि अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार के कार्यकाल में पंजाब किस तरह पीछे चला गया था।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार ने पंजाब की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कदम उठाए हैं तथा कानून-व्यवस्था की स्थिति भी नियंत्रण में है। परनीत कौर आज पटियाला संसदीय क्षेत्र में विभिन्न सार्वजनिक बैठकों में भाग ले रही थी। उन्होंने कहा कि महंगाई आज देश में सबसे बड़ा मुद्दा बन कर उभरी है क्योंकि आम जनता को रोजमर्रा की वस्तुएं खरीदना  भी अब मुश्किल हो गया है। परनीत कौर ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार को चाहिए कि वह सबसे पहले पैट्रोल व डीजल कीमतों को यू.पी.ए. सरकार के कार्यकाल में प्रचलित कीमतों के बराबर लाए।उन्होंने कहा कि पूर्व अकाली सरकार के कार्यकाल में पंजाब विकास की दृष्टि से निम्रतम स्तर पर चला गया था। उन्होंने कहा कि अब कैप्टन सरकार मेहनत करके पंजाब को आगे ले जाने की कोशिशों में लगी हुई है परन्तु यह भी अकाली दल को मंजूर नहीं है परन्तु इसका जवाब उन्हें 19 सितम्बर को होने वाले पंचायती चुनावों में मिल जाएगा।

Related Stories:

RELATED केंद्र का एक्साइज ड्यूटी घटाने से इंकार, राज्य सरकारें पेट्रोल-डीजल पर वैट करें कम