सोशल मीडिया पर ‘मॉडर्न गर्ल’ निबंध पर सीबीएसई की आलोचना

नई दिल्ली :सोशल मीडिया फेसबुक और ट्विटर पर इन दिनों ‘करेंट स्कूल एसेज’ नाम की किताब में ‘आधुनिक लड़कियों’ पर लिखा निबंध वायरल हो रहा है। अंग्रेजी में लिखी किताब में मॉडर्न लड़कियों को आत्म केंद्रित, मतलबी, पार्टी करने वाली और छोटे पैंट्स पहनने वाली बताया गया है। इस निबंध को सोशल मीडिया पर सीबीएसई और आईसीएसई, आईएसई बोर्डों के सिलेबस का हिस्सा बताकर वायरल किया जा रहा है। 

इसकी मुख्य वजह यह है कि किताब के पहले पन्ने पर ही जिक्र किया गया है कि यह किताब सीबीएसई, आईसीएसई और आईएसई बोर्डों के सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी स्कूलों के स्टूडेंट्स के लिए है। लेकिन इस किताब से सीबीएसई बोर्ड का कोई लेना-देना नहीं है। यह बात सीबीएसई ने सर्कुलर जारी कर कही। जारी किए गए सर्कुलर में सीबीएसई ने कहा कि पूर्वी चक्रवर्ती द्वारा लिखित करंट स्कूल एसेज एंड लेटर्स किताब सीबीएसई द्वारा संचालित नहीं है। इतना ही नहीं सीबीएसई ने यह भी कहा है उसकी किताबों से जुड़ी किसी भी तरह की जानकारी का तथ्य जानने के लिए ////cbseacademic.nic.in/ publication_sqps.html  लिंक पर जा सकते हैं। 
 

Related Stories:

RELATED अपनी अंग्रेजी को लेकर थरूर फिर सुर्खियों में