स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में लागू होगा सीबीसीएस

नई दिल्ली : दिल्ली विश्वविद्यालय में चालू सत्र से स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में सीबीसीएस यानी च्वाइस्ड बेस्ड क्रेडिट सिस्टम लागू हो जाएगा। शुक्रवार को हुई डीयू की स्टैंडिंग कमेटी, एकेडमिक मेटर की देखरेख करने वाली कमेटी  की बैठक में यह निर्णय लिया गया है, इससे पहले विवि के स्नातक पाठ्यक्रम में यह व्यवस्था लागू की गई थी। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि सीबीसीएस को सभी स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में लागू किया जाएगा या नहीं। 

शुक्रवार को दोपहर 2.30 बजे शुरू हुई बैठक समाचार लिखे जाने तक जारी थी। विवि के विद्वत परिषद  सदस्य हंसराज सुमन ने कहा कि पर्यावरण अध्ययन विभाग द्वारा चल रहे पाठ्यक्रम को लेकर सवाल खड़े किए कि जब यूजीसी का कहना है कि वही उम्मीदवार संबंधित विषय में शिक्षक नियुक्त हो सकता है,जिस विषय में उसने एमएससी की हो,लेकिन डीयू में अधिकांश वह शिक्षक पढ़ा रहे हैं,जो पर्यावरण अध्ययन विषय के नहीं है। 

जिस पर जवाब दिया गया कि सभी प्रिंसिपलों को पत्र लिखा है कि वह उसी विषय के शिक्षक नियुक्त करे जो संबंधित विषय में योग्य है,कोई भी दूसरे विषय से इंवायरमेंट स्टडीज में शिक्षक भर्ती नहीं होगा।

× RELATED जामिया में स्वरोजगार कोर्स में दाखिले शुरू, 29 सितम्बर अंंतिम तारीख