भाजपा का कांग्रेस-आप पर बड़ा हमला, बताया नीयत में खोट

नई दिल्लीःकांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए बुधवार को भाजपा ने आरोप लगाया कि दोनों की नीयत में खोट है। एक पार्टी आयकर में करोड़ों की हेराफेरी करती है, तो दूसरी पार्टी ईमानदारी का ढोंग करने की आड़ में चुनावी चंदों में हवाला का कारोबार करती है।

PunjabKesari

भाजपा प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने कहा कि आम आदमी पार्टी की कथनी और करनी में बहुत अंतर है। जो पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लडऩे का दिखावा करके दिल्ली की सत्ता पर काबिज हुई, आज वही पार्टी भ्रष्टाचार के नए गुल खिला रही है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग के पारदर्शिता के दिशा निर्देशों का पालन नहीं किया। आम आदमी पार्टी के दिए खातों की जानकारी में भी अनियमितताएं पाई गई हैं। भाजपा प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि जांच में यह भी पाया गया है कि आम आदमी पार्टी ने चुनाव आयोग से चंदे की जानकारी छिपाई और चंदे का हिसाब ही नहीं दिया।

PunjabKesari

लेखी ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने अपनी वेबसाइट पर चंदे की जानकारी कुछ और दिखाई, जबकि चुनाव आयोग को कुछ और ही जानकारी दी। सवाल उठने पर आम आदमी पार्टी ने अपने खातों की जानकारी भी बदल दी। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसी की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि आम आदमी पार्टी ने हवाला ऑपरेटरों के जरिए दो करोड़ रुपए के एक लेन-देन को गलत तरीके से स्वैच्छिक दान के रूप में दिखाया। यह एक निहायत ही गंभीर आरोप है।

PunjabKesari

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि इस विषय की कई स्तरों पर जांच की गई और मीडिया में कई वीडियो इसे लेकर वायरल हुए, जिसमें यह स्पष्ट था कि हवाला के जरिए ये पैसा आम आदमी पार्टी के खाते में स्थानांतरित किया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस फर्जीवाड़े में शामिल एक व्यक्ति के घर से नोटबंदी के दौरान काफी करेंसी भी बरामद की गई थी।

PunjabKesari

लेखी ने कहा कि रिप्रेजेंटेशन ऑफ पीपुल्स एक्ट के सेक्शन 29सी के तहत उल्लेखित नियमों का आम आदमी पार्टी ने उल्लंघन किया है। इलेक्शन सिम्बल्स रिजर्वेशन एंड अलॉटमेंट आर्डर 1968 के 16ए नियम के तहत पार्टी का चिह्न दिया जाता है, लेकिन नियमों में पार्टी द्वारा अनियमितता करने पर पार्टी का चुनाव चिह्न वापस भी लिया जा सकता है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED ADR रिपोर्ट में हुअा देश भर के विधायकों की अाय को लेकर खुलासा