PM मोदी ने दिया ‘अजेय भारत, अटल भाजपा’ का नारा; बोले-2019 में कोई चुनौती नहीं

नेशनल डेस्क: भाजपा ने अपनी विकास योजनाओं की बदौलत वर्ष 2022 तक नए भारत के निर्माण का विश्वास व्यक्त किया है। रविवार को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘अजेय भारत-अटल भाजपा’ का नारा दिया। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर परोक्ष निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग एक दूसरे को देख नहीं सकते एक साथ चल नहीं सकते, आज वो गले लगने को मजबूर हैं ।  

केंद्रीय मंत्री रविशंकार प्रसाद ने पीएम के हवाले से कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने भाजपा के विचार, संस्कार और नेतृत्व को एक नई ऊंचाई दी। आज हमारा सूरज तो चला गया लेकिन हम जो सितारें हैं, उन्हें अपनी चमक बढ़ाकर विचारधारा के प्रकाश को आगे फैलाना है। उन्होंने कहा कि हम सत्ता को कुर्सी के रूप में नहीं देखते बल्कि सत्ता को जनता के बीच में काम करने का उपकरण समझते हैं। 

मोदी ने सदस्यों को नसीहत देते हुए कहा कि पब्लिसिटी के लिए कुछ भी नहीं बोलना चाहिए। सिर्फ प्रवक्ता ही मीडिया से बात करे। उन्होंने कहा कि आपस में लड़ने वाले विपक्ष की एकजुटता हमारी उपलब्धि है। भाजपा कार्यकर्ता तर्क से कांग्रेस के झूठ को बेनकाब करें। मोदी ने महागठबंधन पर तंज कसते हुए कहा कि उनके नेतृत्व का पता नहीं है, उसकी नीति अस्पष्ट है और नियत भ्रष्ट है ।

वहीं इससे पहले पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया। इस प्रस्ताव में कहा गया है कि वर्ष 2022 देश गरीबी, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, जातिवाद और संप्रदायवाद से मुक्त हो जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दृष्टि, लगन और परिकल्पना की बदौलत सबका साथ सबका विकास से नए भारत का सपना पूरा हो सकेगा। हालांकि उन्होंने कही भी राम मंदिर पर कुछ नहीं बोला।उन्होंने कहा कि मोदी एवं पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की जोड़ी भाजपा की गतिविधियां तेजी से बढ़ी हैं और वह देश के 19 राज्यों में सत्ता में आ गई है। यह लक्ष्य जनता से सीधे संवाद से पूरा हुआ है।  भाजपा ने विपक्षी दलों का महागठबंधन ‘ढकोसला, भ्रांति और झूठ‘ का पुलिंदा और कांग्रेस को ‘ब्रेकिंग इंडिया’ करार दिया और कहा कि पार्टी अपनी सरकारों के कामकाज और विकास योजनाओं की बदौलत ये चुनाव जीतेगी। भाजपा 2019 का चुनाव संगठन के आधार लड़ेगी।

Related Stories:

RELATED BJP कार्यकारिणी में बोले PM मोदी- महागठबंधन की नीति अस्पष्ट और नीयत भ्रष्ट