मोदी को हराने के लिए महागठबंधन लोकतंत्र के लिए घातक: इस्पात मंत्री

रोहतक(दीपक भारद्वाज): मोदी को हराने के लिए महा गठबंधन बनने की चर्चाओं पर केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेंद्र सिंह का कहना है कि ऐसे गठबंधन लोकतंत्र के लिए घातक है, ऐसे गठबंधन से कोई फर्क नहीं पडऩे वाला है। रोहतक जिले के सांपला स्थित छोटूराम संग्राहलय में 104 फीट के राष्ट्रीय ध्वज के ध्वजारोहण कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे। इसी कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे पूर्व सांसद व कांग्रेस नेता नवीन जिंदल ने कहा कि सुभाष चंद्रा से उनके सभी विवाद खत्म हो चुके हैं। वे भाजपा में नहीं जाएंगे और कांग्रेस से चुनाव लडऩे का फैसला पार्टी को करना है। वहीं हरियाणा सरकार के मंत्री राव नरबीर सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के झंडे का रंग भी बदला जाना चाहिए, क्योंकि इससे राष्ट्रीय ध्वज का अपमान होता है।



बीरेंद्र सिंह ने कहा कि सांपला क्षेत्र में वे एक अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम बनवाने के लिए काम कर रहें हैं। ताकि क्षेत्र का तो विकास तो होगा ही, साथ ही युवाओं के लिए खेल के क्षेत्र में प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। जमीन का सर्वे किया जा चुका है। साथ ही मोदी को हराने के लिए बनने वाले गठबंधन को लेकर उन्होंने कहा कि इस तरह के गठबंधन पहले भी बहुत बने हैं। लेकिन ऐसे गठबंधन केवल अवसरवादी होते हैं।

वहीं कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे हरियाणा सरकार के मंत्री नरबीर सिंह बोले सरकार राजमार्गों की हालत सुधारने के लिए काम कर रही है। साथ ही प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने का काम किया जा रहा है। वहीं अरावली पर्वत से कटाई करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। किसी को भी प्रयावरण से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। वहीं उन्होंने कांग्रेस के झंडे पर सवाल उठाते हुए कहा कि कांग्रेस के झंडे का तिरांगा रंग हटा देना चाहिए, क्योंकि इससे राष्ट्रीय ध्वज का अपमान होता है। 

पूर्व सांसद नवीन जिंदल ने कहा कि वे राजनीति को समाज सेवा का साधन मानते हैं। वे कांग्रेस में ही खुश हैं और भाजपा में जाने का उनका कोई इरादा नही है। जहां तक सुभाष चंद्रा से मुलाकात की बात है तो उनके विवाद खत्म हो चुके हैं। जहां तक कांग्रेस पार्टी से चुनाव लडऩे की बात है तो पार्टी को इस बात का फैसला करना है। 

Related Stories:

RELATED नक्सली नहीं करते प्रेस और लोकतंत्र में विश्वास: अहीर