Kundli Tv- भीम को इस देवी की कृपा से मिली थी महाभारत में जीत, गवाह है ये मंदिर

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें Video)
हरियाणा के जिला झज्जर में प्रसिद्ध बेरी कस्बे में माता भीमेश्वरी देवी शक्तिपीठ राज्य भर में अनूठी पहचान रखता है। इसे लोकप्रिय भाषा में माता बेरी वाली के नाम से जाना जाता है। प्रतिदिन यहां माता के दर्शन करने वालों की भीड़ देखने को मिलती है। नवरात्रों में तो यह भीड़ इतनी अधिक होती है कि पुलिस प्रशासन के साए में ही मेले में माता बेरी वाली के दर्शन संभव हो पाते हैं। माता भीमेश्वरी देवी के दर्शनों के लिए वर्तमान में दो मुख्य स्थानों वाले मन्दिरों में श्रद्धालु पहुंचते हैं। सुबह से लेकर दोपहर तक बाहर वाले मन्दिर में तथा दोपहर से शाम तक भीतर वाले मन्दिर में माता बेरी वाली के दर्शन किए जा सकते हैं। मंदिर में पूजा-अर्चना /अरदास करने वालों की सभी मुरादें माता पूरी करती हैं। 

PunjabKesari
पुराणों, लोक कथाओं व इतिहास के अनुसार माता भीमेश्वरी देवी महाभारत के पात्र/ योद्धा भीम की माता हैं। जब भीम को महाभारत युद्ध में शामिल होने धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र जाना पड़ा तो रास्ते में उनकी माता ने मूर्ति स्वरूप बेरी में रहने का आश्वासन दिया और साथ ही उन्हें यह भी विश्वास दिलाया कि वे युद्धभूमि में उनकी सहायता यहीं पर रहकर ही करेंगी। इसके बाद भीम ने कुरुक्षेत्र के युद्ध में माता बेरी वाली की कृपा से विजय हासिल की। 

PunjabKesari
माता बेरी वाली की पूजा-आरती फलदायक है। नारियल, चुनरी, प्रसाद और फलों-मेवों से यहां पारंपरिक विधि से माता बेरी वाली की पूजा की जाती है। माता बेरी वाली के बाहरी भवन के पीछे की ओर नवजात शिशुओं के बाल उतार कर माता के चरणों में चढ़ाने की पुरानी परम्परा है। मान्यता है कि ऐसा करने से माता नवजात शिशु पर कृपा दृष्टि करती हैं। 

PunjabKesari
नवविवाहित जोड़े भी यहां माता बेरी वाली को पूजा-अर्चना से प्रसन्न करने आते हैं जिसे यहां की सामान्य भाषा में ‘गठजोड़े की जात’ कहा जाता है। माता बेरी वाली (भीमेश्वरी देवी) वैष्णो शक्ति हैं और अधर्म का नाश करती हैं। मंदिर के बाहर वाले स्थान पर तालाब है जिसमें नर-नारी, बच्चे-बूढ़े मिट्टी निकाल कर मन्नत मांगते हैं, साथ ही इस तालाब में रुपए भी फैंकते हैं। 

PunjabKesari
माता बेरी वाली की भवन में रखी मूर्ति स्वर्ण निर्मित है। माता जी अपने भक्तों के प्रति दयालु हैं। विधि-विधान से पूजा-अर्चना और ध्यान-सुमिरन करने वालों की माता सभी मनोकामनाएं पूरी करती हैं। बेरी कस्बे में एक तरफ बाजार लगता है जहां प्राय: सभी तरह का सामान उपलब्ध होता है। मिठाइयों की दुकानों पर दूध एवं दूध से बनी मिठाइयां खरीदने लोग बाजार जाते हैं। 
Kundli Tv- OMG ! क्या वास्तु से भी कैंसर हो सकता है? (देखें Video)

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED Kundli Tv- भीम को इस देवी की कृपा से मिली थी महाभारत में जीत, गवाह है ये मंदिर