लोकसभा चुनावः बंगलादेश के एक और अभिनेता को भारत छोड़ने का आदेश

नई दिल्लीःबंगलादेश के एक और फिल्म अभिनेता गाजी अब्दुल नूर को पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की चुनाव रैली में भाग लेने के मद्देनजर भारत छोड़ने का आदेश दिया गया है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने गुरूवार को  बताया कि अब्दुल नूर के वीजा की अवधि भी समाप्त हो चुकी है और वह इसके बावजूद भारत में रह रहे थे। उनके खिलाफ अवैध रूप से यहां रहने के मामले में भी उचित कारर्वाई की जा रही है।



अब्दुल नूर ने दमदम में तृणमूल कांग्रेस की चुनाव रैलियों में हिस्सा लिया था जिसकी भारतीय जनता पार्ची ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी। इससे पहले इसी हफ्ते बंगलादेश के अभिनेता फिरदौस अहमद को तृणमूल कांग्रेस के एक लोकसभा उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार करने पर देश छोड़ने का आदेश दिया गया था।  दरअसल बांग्लादेशी ऐक्टर फिरदौस अहमद के पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर में रैली करने के बाद अभिनेता गाजी अब्दून भी तृणमूल कांग्रेस के लिए वोट मांगते नजर आए थे।



इस मामले में पश्चिम बंगाल भाजपा ने मामले में चुनाव आयोग से हस्तक्षेप करने की अपील की थी। अभिनेता गाजी अब्दून नून ने बीरभूम में तृणमूल प्रत्याशी शताब्दी रॉय के लिए रैली कर वोट मांगे थे। बंगाल भाजपा द्वारा इसकी चुनाव आयोग से शिकायत करने के बाद गृह मंत्रालय ने यह आदेश दिया है।


 
गोरतलब है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर आरोप लगते रहे हैं कि उनके शासनकाल में बंग्लादेश से आने वाले अवैध घुसपैठिए निर्बाध रूप से पश्चिम बंगाल में अपनी गतिविधियां चला रहे हैं। ऐसे में तृणमूल कांग्रेस की रैलियों में बांग्लादेशी ऐक्टरों का दिखना ममता की राह और मुश्किल बना सकता है।

Related Stories:

RELATED PICS of the day: लोकसभा चुनाव के संपन्न होने के बाद फुर्सत के पल बिताते नेता