राहुल गांधी देश की जनता और शहीदों से माफी मांगें: अमित शाह

नई दिल्ली: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा के बयान को लेकर कांग्रेस पर चुनाव से पहले ‘‘तुष्टीकरण एवं वोट बैंक की राजनीति’’ करने का आरोप लगाया और कहा कि देश के शहीदों और उनके परिवार का अपमान करने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को देश की जनता और शहीदों के परिवारों से माफ़ी मांगनी चाहिए। शाह ने संवाददाताओं से कहा कि देश जब आम चुनाव की ओर तेजी से बढ़ रहा है और देश के मतदाताओं तथा युवाओं में राष्ट्र सुरक्षा का मुद्दा अहम बना हुआ है। ऐसे समय में जो कल कांग्रेस के विदेशी मामलों के प्रभारी सैम पित्रोदा का बयान आया, वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और चिंताजनक है। पित्रोदा के बयान का जिक्र करते हुए शाह ने सवाल किया कि कांग्रेस बताए कि क्या पुलवामा की घटना आम घटना है, क्या एयर स्ट्राइक से आतंक को जवाब नहीं देना चाहिए?  उन्होंने कहा, ‘‘ सैम पित्रोदा के बयान पर कांग्रेस अध्यक्ष देश की जनता और शहीदों के परिवारों से माफ़ी मांगें क्योंकि बयान से किनारा करने से कोई हल नहीं निकलता।’’

शाह ने कहा कि कांग्रेस कभी अपने नेता दिग्विजय सिंह, कभी पी चिदंबरम, कभी कपिल सिब्बल, कभी नवजोत सिंह सिद्धू के बयानों को व्यक्तिगत बयान बताती है । कभी मणिशंकर अय्यर को निकालने के बाद फिर वापस ले लेती है । भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि यह कांग्रेस और कांग्रेस अध्यक्ष (राहुल गांधी) की रणनीति का हिस्सा है। उन्होंने आरोप लगाया कि जब भी चुनाव आते हैं, तब कांग्रेस पार्टी तुष्टकीकरण, वोट बैंक की राजनीति करती है। शाह ने कहा, ‘‘ मैं कांग्रेस अध्यक्ष से मांग करता हूं कि आप सैम पित्रोदा के बयान पर देश से, शहीदों के परिवारों से और देश के वीर सैनिकों से माफी मांगें ।’’ कांग्रेस पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा, ‘‘ देश की जनता इस बात को समझ चुकी है । लेकिन वे (कांग्रेस) वोट बैंक के लिये कितना नीचा गिरेंगे । क्या देश हित को भी नहीं छोड़ेंगे, क्या देश हित से भी समझौता करेंगे । ’’    


 गौरतलब है कि इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के प्रमुख सैम पित्रोदा ने शुक्रवार को कहा था कि सरकार को बालाकोट में वायुसेना की कार्रवाई के संदर्भ में ‘और तथ्यों’ के साथ सामने आना चाहिए।  पित्रोदा ने कथित तौर पर कहा था कि मुंबई आतंकवादी हमले के बाद भारत हवाई हमले से जवाब दे सकता था लेकिन ‘‘मेरे हिसाब से दुनिया से ऐसे नहीं निपटा जाता।’’ 

Related Stories:

RELATED Jallianwala Bagh पहुँचे Rahul Gandhi, शहीदों को दी श्रद्धाँजलि