ऑस्ट्रेलिया ओपन: बड़े उलटफेर का शिकार हुए मौजूदा चैंपियन रोजर फेडरर, स्टीपास ने हराकर किया बाहर

मेलबर्न: युवा स्टीफेनो स्टीपास ने मौजूदा चैंपियन रोजर फेडरर को ऑस्ट्रेलियाई ओपन के चौथे दौर से बाहर का रास्ता दिखाकर बड़ा उलटफेर करने के साथ ही रविवार को यहां विश्व टेनिस में धमाकेदार उपस्थिति दर्ज कराई। नेक्स्टजेन फाइनल्स के चैंपियन स्टीपास ने रॉड लेवर एरेना में अपने से 17 साल सीनियर फेडरर को 6-7 (11-13), 7-6 (7/3), 7-5, 7-6 (7/5) से हराकर सनसनी फैलाई। 

स्टीफेनो ने ऑस्ट्रेलिया ओपन में किया बड़ा उलटफेर 


चौदहवीं वरीयता प्राप्त स्टीपास किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले पहले यूनानी खिलाड़ी भी बन गए हैं। वह अंतिम आठ में 14वीं वरीयता प्राप्त राबर्टो बातिस्ता आगुट से भिड़ेंगे जिन्होंने छठी वरीयता प्राप्त मारिन सिलिच को लगभग चार घंटे तक चले मैच में 6-7 (6/8), 6-3, 6-2, 4-6, 6-4 से पराजित किया। स्टीपास ने जीत के बाद कहा, ‘मेरे पास इस जीत को बयां करने के लिए शब्द नहीं है। मैं अभी इस धरती पर सबसे खुश व्यक्ति हूं।’

इससे पहले इन दोनों के बीच एकमात्र मुकाबला इस महीने के शुरू में होपमैन कप मिश्रित टीम प्रतियोगिता में हुआ था जिसमें फेडरर ने दो टाईब्रेकर में जीत दर्ज की थी। इसलिए जब पहला सेट टाईब्रेकर पर पहुंचा तो किसी को हैरानी नहीं हुई। इस सेट का अंत विवादास्पद रहा। स्टीपास के फोरहैंड पर एक दर्शक जोर से ‘आउट’ चिल्ला उठा और फेडरर 12-11 से आगे हो गए। स्टीपास का अगला फोरहैंड गलत चला गया और फेडरर ने यह सेट अपने नाम कर दिया।

फेडरर ने दूसरे सेट में यूनानी खिलाड़ी पर लगातार दबाव बनाए रखा लेकिन हर बार स्टीपास ने अच्छी वापसी की। दूसरा सेट भी टाईब्रेकर तक पहुंचाया और स्टीपास मैच बराबर करने में सफल रहे। तीसरे सेट में 4-5 के स्कोर पर स्टीपास के पास दो ब्रेक प्वाइंट थे लेकिन फेडरर ने उन्हें बचा दिया। लेकिन अगली बार फेडरर अपनी र्सिवस नहीं बचा पाए और इस तरह से मैच में पहली बार वह पिछड़ गए। स्टीपास ने चौथे गेम के सातवें गेम के बाद ट्रेनर को बुलाया क्योंकि उन पर थकान हावी हो रही थी। फेडरर इसका फायदा नहीं उठा पाए और स्टीपास ने टाईब्रेकर में पहले मैच प्वाइंट पर ही जीत दर्ज कर दी। स्टीपास ने कहा, ‘रोजर हमारे खेल के दिग्गज हैं। मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं। यह सपना सच होने जैसा है।’

जोकोविच ने क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए बहाया पसीना


नोवाक जोकोविच ने लगातार दूसरे मैच में सेट गंवाया लेकिन इसके बावजूद वह 15वीं वरीयता प्राप्त दानिल मेदवेदेव से मिली कड़ी चुनौती से पार पाकर सोमवार को यहां आस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहे। विश्व में नंबर एक खिलाड़ी ने यह मैच 6-4, 6-7 (5/7), 6-2, 6-3 से जीता और उनका अगला मुकाबला अब जापान के आठवीं वरीयता प्राप्त केई निशिकोरी से होगा। जोकोविच और मेदवेदेव दोनों को तीन घंटे 15 मिनट तक चले मेच में ट्रेनर की मदद लेनी पड़ी। तीसरे सेट में 2-1, 0-40 पर तीन ब्रेक प्वाइंट बचाने वाले जोकोविच ने कहा, ‘‘यह शारीरिक तौर पर कड़ा मुकाबला था। दानिल ने अच्छी टेनिस खेली।

निशिकोरी मैराथन मुकाबले में जीत से अंतिम आठ में  

जापान के केई निशिकोरी ने पहले दो सेट गंवाने के बाद शानदार वापसी करके सोमवार को यहां पाब्लो कारेनो बस्टा को हराया और आस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट के पुरूष एकल के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।  निशिकोरी ने यह मुकाबला 6-7 (8/10), 4-6, 7-6 (7/4), 6-4, 7-6 (10/8) से जीता। यह टूर्नामेंट में दूसरा अवसर है जबकि उन्हें पांच सेट तक जूझना पड़ा। उन्होंने स्पेनिश खिलाड़ी को पांच घंटे पांच मिनट तक चले मैराथन मुकाबले में हराया। इनमें से पहला सेट ही 76 मिनट तक चला।  

 

Related Stories:

RELATED गन्ने से भरा ट्रक कार पर पलटा, बाल-बाल बची कार में सवार परिवार की जान