तेलंगाना में KCR ही किंग, प्रचंड बहुमत के साथ अपने विरोधियों को मात दी मात

हैदराबाद: तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस ने विधानसभा चुनाव में कुल 119 सीटों में 60 पर जीत हासिल कर ली है और 27 सीटों पर आगे चल रही है और इसके साथ ही वह स्पष्ट बहुमत के साथ फिर से सरकार बनाने जा रही है। कांग्रेस ने अबतक13 सीटों पर जीत हासिल की है और अभी तक छह सीटों पर आगे है। उसकी सहयोगी तेलुगु देशम पार्टी दो सीटों पर आगे है। वहीं अन्य के खाते में 9 सीटें है। 

टीआरएस के कार्यालयों सहित तेलंगाना भवन और हैदराबाद मुख्यालय पर जश्न मनना शुरू हो गया है। टीआरएस कार्यकर्ता वहां ढोल की धुन पर नाचते दिखे, पटाखे फोड़े गए और मिठाइयां भी बांटी गई।  कांग्रेस के उम्मीदवार 22 सीटों पर आगे चल रहे हैं और उसकी सहयोगी तेलुगु देशम पार्टी दो सीट पर आगे है। असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाला एआईएमआईएम पांच सीटों पर, भाजपा तीन सीटों पर आगे है और अन्य दो सीटों पर आगे है। मंगलवार सुबह आठ बजे मतगणना शुरू होने के साथ ही स्पष्ट हो गया था कि राव की तेलंगाना राष्ट्र समिति तीन-चौथाई बहुमत हासिल करने वाली है।

टीआरएस अध्यक्ष एवं कार्यवाहक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने इस साल सितम्बर में विधानसभा भंग कर दी थी, जिस कारण तय समय से करीब आठ महीने पहले राज्य में चुनाव कराने पड़े। टीआरएस के पास पिछली विधानसभा में 63 सीटें थीं।  राव के भतीजे और निवर्तमान सरकार में मंत्री टी हरीश राव ने कहा, ‘‘जनता ने हमारे नेता में एकबार फिर विश्वास दिखाया है और वे विपक्ष द्वारा चुनाव में प्रचारित की गई गलत जानकारी पर विश्वास नहीं करते।’’ 



कार्यवाहक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने 51,000 से ज्यादा मतों के अंतर से गजवेल विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की। एआईएमआईएम नेता अकबरूद्दीन ओवैसी तेलंगाना की चंद्रयानगुट्टा सीट से पांचवी बार जीते। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वन्द्वी भाजपा प्रत्याशी सैयद शहजादी को 80,000 से अधिक मतों के अंतर से हराया। आधिकारिक सूचनाओं के मुताबिक, टीआरएस के संजय कुमार ने जगतियाल सीट पर कांग्रेस के अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी टी जीवन रेड्डी को 61185 मतों के अंतर से हराया।  
 


राव के भतीजे एवं कार्यवाहक सरकार में वरिष्ठ मंत्री टी हरीश राव ने सिद्दिपेट से अपनी निकतटम टीजेएस के प्रतिद्वंद्वी भवानी रेड्डी को 1,18,499 मतों के अंतर से मात दी। टीआरएस अध्यक्ष राव के बेटे एवं मंत्री के टी राम राव सिरसिल्ला में अपने प्रतिद्वंद्वी, कांग्रेस उम्मीदवार के.के महेन्द्र रेड्डी को 88,000 मतों के अंतर से मात दी। चुनाव में सत्तारूढ़ टीआरएस और भाजपा मैदान में अकेले उतरे हैं और कांग्रेस ने तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी), भाकपा और तेलंगाना जन समिति (टीजेएस) के साथ गठबंधन किया है। तेलंगाना विधानसभा की 119 सीटों के लिए मतदान सात दिसम्बर को हुआ था। 

Related Stories:

RELATED पेट खाली और आंखों में बड़े सपने, 11 साल की ताइक्वांडो चैंपियन पूजा तेलंगाना में करेगी प्रदेश का नाम रोशन c