अरविंद केजरीवाल हरियाणा दौरे के लिए नहीं चूक रहे कोई भी मौका

चंडीगढ़(धरणी): दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक के बाद एक लगातार हरियाणा के दौरे कर रहे हैं। बुधवार को केजरीवाल सोनीपत के थाना कला गांव में शहीद नरेंद्र के परिजनों को 1 करोड़ रुपए का चेक भेंट करने के लिए आएंगे। आम आदमी पार्टी की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने कहा कि हरियाणा सरकार अरविंद केजरीवाल से डरी हुई है और करनाल जिले में भी उनके दौरे पर सरकार ने अड़ंगा अड़ाया था। अब सरकार यह भी साफ कर दे कि अरविंद केजरीवाल को शहीद के परिजनों को मुआवजा देने के लिए आने दिया जाएगा या फिर रोका जाएगा।



दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हरियाणा दौरे के लिए कोई भी मौका नहीं चूक रहे। हरियाणा के स्कूलों का दौरा करने के लिए तो कभी हरियाणा के सरकारी अस्पतालों की हालत देखने के लिए अरविंद केजरीवाल हरियाणा पहुंच जाते हैं। पिछले कुछ दिनों से केजरीवाल हरियाणा में सक्रिय हैं और अपने लिए चुनावी जमीन की तलाश कर रहे हैं। पिछले दिनों उन्होंने सोनीपत जिले के थाना कलां गांव के शहीद नरेंद्र के परिजनों को एक करोड़ रुपए की सहायता राशि देने का ऐलान किया था। बाकायदा इसके लिए अरविंद केजरीवाल ने अपनी सरकार की नीतियों में भी संशोधन किया था। 



अब नरेंद्र के परिजनों को यह राशि सौंपने के लिए अरविंद केजरीवाल बुधवार को सोनीपत के थाना कला गांव बहुत रहे हैं। इस कड़ी में आम आदमी पार्टी की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि हरियाणा सरकार अरविंद केजरीवाल से डरी हुई है। हमारे विभिन्न शहरों में पोस्टर फाड़े जा रहे हैं और अरविंद केजरीवाल के हरियाणा दौरे में सरकार अड़ंगा अड़ाती है। अब सरकार यह साफ कर दे कि अरविंद केजरीवाल को शहीद के परिजनों को एक करोड़ पर सौंपने के लिए आने की अनुमति है या फिर नहीं। नवीन जयहिन्द ने आरोप लगाया कि इस बार भी भाजपा सरकार उन्हें रोकने की कोशिश कर सकती है। 

जयहिंद ने बताया कि आम आदमी पार्टी भाजपा की कार्रवाई का जवाब देने के लिए अब सभी 10 लोकसभा क्षेत्रों में रैलियों का आयोजन करेगी। 24 नवम्बर को गुरुग्राम में रैली आयोजित होगी, इसके बाद 2 दिसम्बर को फरीदाबाद एयर 3 दिसम्बर को नारनौल में तथा 9 दिसम्बर को करनाल में जनसभाएं होंगी। 25 नवम्बर को जींद में एन्हासमेंट को लेकर जींद में राज्यस्तरीय बैठक का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें दिल्ली मुख्यमंत्री बतौर मुख्यातिथि हिस्सा लेंगे। 

Related Stories:

RELATED यहां डॉक्टरों का मिलना हो गया सपना, मरीज कहां इलाज करवाएं अपना