पत्नी ने आलू रखने के लिए की बेसमैंट की डिमांड, पति ने कर दिया एेेसा कमाल

येरेवान (आर्मेनिया):  एक महिला ने अपने पति से  आलू रखने के लिए एक बेसमेंट बनाने की डिमांड की तो  पति एेसा काम कर दिया कि एक यादगार बन गई। दरअसल पत्नी तोस्या की इस मांग पर पति ने 23 साल में जमीन के अंदर एक महल खड़ा कर दिया। पति लेवोन की मौत तो 2008 में हो गई लेकिन उनके बनाए हुए महल को देखने के लिए अभी कई पर्यटक आते हैं।


जमीन के अंदर बने इस महलनुमा घर को एक मध्ययुगीन इमारत की शक्ल दे दी गई है। इस महल के अंदर गुफाएं और नहरें भी बनाई गईं हैं, साथ ही साथ दरवाजों को मेहराब की शक्ल दी गई है। उनकी पत्नी यहां आने वाले पर्यटकों को अपने इस महल के सातों कमरे दिखाती हैं। वे इसे प्यार की निशानी करार देती हैं। महल बनाने वाले शख्स लेवोन की पत्नी बताती हैं कि उन्होंने जब एक बार खुदाई शुरू की तो वे रूके नहीं। 1985 में उन्होंने अपना ये काम शुरू किया था, मैनें उन्हें कई बाार रोकना चाहा लेकिन  वह अपना काम करते रहे। उन्होंने घर बनाने की ट्रेनिंग ले ली थी।


इस काम के लिए वे रोज 18 घंटे काम करते थे। काम के दौरान थोड़ी झपकी ले लेते थे और उटकर फिर काम में लग जाते थे। उन्हें भरोसा था की भगवान भी उनकी इस काम में मदद कर रहा है। 20 साल में उन्होंने जमीन के अंदर नॉर्मल औजारों से तीन हजार वर्ग फुट का हिस्सा खोद लिया था। लेवोन की मेहनत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने खुदाई में 600 ट्रक मिट्टी और पत्थर निकाले। 2008 में महल की एक दीवार टूट गई। इसके चलते लेवोन को हार्टअटैक आया और 67 साल में उनकी मौत हो गई। तोस्या ने अपने पति की याद में एक 

Related Stories:

RELATED अमृतसर की महिला से लुधियाना में रेप