बंगाल से TMC को उखाड़ फेंकेंगे, ममता ने घोंटा लोकतंत्र का गला: शाह

कोलकाता: भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि 2019 का आम चुनाव भारत का भविष्य निर्धारित करने वाला चुनाव तो है ही किंतु उसके साथ पश्चिम बंगाल के लिए भी यह चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण है। शाह ने मंगलवार को यहां एक रैली को संबोधित करते हुए राज्य की ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमले किए। उन्होंने कहा कि 2019 का चुनाव यह तय करेगा कि तृणमूल कांग्रेस(टीएमसी) जो भाजपा के सभी कार्यक्रमों में रोड़े अटकती है रहेगी अथवा इसकी विदाई होगी। उन्होंने कहा कि आम चुनाव से यह तय होने वाला है कि बंगाल में हत्याएं करवाने वाली, लोकतंत्र का गला घोटने वाली, भ्रष्टाचार करने और घुसपैठ कराने वाली ममता बनर्जी की अगुवाई वाली टीएमसी की सरकार रहेगी अथवा जायेगी।


आम चुनाव बंगाल में एक बार फिर लोकतंत्र प्रस्थापित करने वाला चुनाव है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राज्य की जनता ने कम्युनिस्टों को हटाकर तृणमूल को सत्ता सौंपी थी किंतु वर्तमान हालात देखकर बंगाल के लोग मजबूरी में कह रहे हैं कि टीएमसी से अच्छी कम्युनिस्ट सरकार ही थी। राज्य में भाजपा और अन्य राजनीतिक दलों के कार्यकर्त्ताओं पर हो रहे हमले का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि बंगाल में 60 से अधिक भाजपा और अन्य पार्टियों के कार्यकर्ताओं की हत्या की जा चुकी है। शाह ने कहा कि भाजपा की रथयात्रा रोकने से बंगाल की जनता के दिलों में जो कमल खिला है वो खत्म नहीं होगा और राज्य के लोगों ने इस वर्ष के आम चुनाव में नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने का मन बना लिया है।

उन्होंने कहा कि मोदी की सरकार के शासनकाल में बंगाल को संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार की तुलना में विकास के लिए ढाई गुना राशि दी गई। भाजपा को जिताने की अपील करते हुए श्री शाह ने लोगों को आश्वस्त किया कि वह बंगाल में घुसपैठ को रोकने के लिए कोई भी कदम बाकी नहीं रखेंगे। किंतु टीएमसी घुसपैठ को चाहती है और इसीलिए हमारे राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्ट्रर (एनआसी) की बात करने पर इसका विरोध किया जाता है। उन्होंने कहा कि जिस बंगाल की पहचान संगीत की गूंज से होती थी उसी राज्य में आज बम के धमाकों की गूंज सुनाई देती है।

Related Stories:

RELATED ममता निजी कंपनी की तरह पश्चिम बंगाल में सरकार चला रही है: रमन सिंह