फाल्कन स्लेयर्स' के नाम से भी जानी जाएगी अभिनंदन की 51वीं स्कॉवड्रन

नेशनल डेस्कःपाकिस्तान के लड़ाकू विमान F-16 को मार गिराने वाली भारतीय वायुसेना की श्रीनगर स्थित 51वीं स्कॉवड्रन को अब 'फॉल्कन स्लेयर्स' के नाम से भी जाना जाएगा। अभी तक मिग-21 बायसन फाइटर जेट वाली इस स्कॉवड्रन को 'स्वार्ड आर्म' के नाम से जाना जाता है। लेकिन भारत के मिग-21 बायसन जेट ने पाकिस्तान के F-16 को मार गिराया था, इसलिए अब इसे फॉल्कन का 'स्लेयर' यानि 'वध' करने वाली स्कॉवड्रन के नाम से भी जाना जाएगा। बता दें कि 27 फरवरी को पाकिस्तानी वायुसेना के हमले को नाकाम करने के वक्त विंग कमांडर अभिनंदन इसी 51वीं स्कॉवड्रन में तैनात थे। 

जानकारी के मुताबिक, अब इस 51वीं स्कॉवड्रन में तैनात सभी बायसन जेट्स के पायलट्स उड़ान के वक्त अपने जी-सूट (यानि यूनिफार्म) पर इस खास फॉल्कन सेल्यर्स का बैच लगाएंगे। गौरतलब है कि वायुसेनना ने इन खास बैच को बल्क में बनाने का ऑर्डर दे दिया है। बता दें कि इस बिल्ले पर एमराम डोजर्स भी लिखा है। एमराम मिसाइस पाकिस्तान के एफ-16 विमान एमराम मिसाइल से लैस होते हैं। 

27 फरवरी को जब पाकिस्तान के एफ-16 विमानों की भारत के बायसन और सुखोई फाइटर जेट्स से डॉग-फाइट हुई थी तो पाकिस्तानी वायुसेना ने एमराम मिसाइल से वार किया था। लेकिन बायसन और सुखोई विमानों ने एमराम मिसाइल को चकमा दे दिया था, जिससे अमेरिका में बनी एडवांस मिसाइल, एमराम का वार खाली चला गया था। यही वजह है कि भारत के सुखोई विमानों का जो नया बैच आया है। उस पर एवेंजर के साथ-साथ एमराम डोजर्स भी लिखा है। 

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!