2019 चुनाव के लिए BJP ने बुक किए सभी हेलिकॉप्टर और चार्टर्ड प्लेन, संघर्ष कर रही कांग्रेस

नेशनल डेस्कः 2019 के चुनावी के मद्देनजर राजनीतिक पार्टियों ने संसाधनों से लेकर सोशल मीडिया पर अपनी प्रचार रणनीति बनानी शुरू कर दी है। सभी पार्टियां अपने स्टार प्रचारक की सूची तैयार कर रही हैं। कांग्रेस पार्टी का दावा है कि इस दौड़ में भाजपा सबसे आगे निकल गई है। चुनाव प्रचार के लिए भाजपा ने 200 से ज्यादा चार्टर्ड प्लेन बुक करा दिए हैं। हेलीकॉप्टरों पर भी नजर है।


खास बात है कि भाजपा ने यह सब इतनी जल्दी कर दिया कि कांग्रेस पार्टी को अब बुकिंग के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। न तो चार्टर्ड प्लेन औ न ही हेलीकॉप्टर उतनी आसानी से उपलब्ध हो पा रहे हैं। कांग्रेस पार्टी के एक वरिष्ठ नेता का दावा है कि संसाधनों के बल पर भाजपा चुनाव प्रचार में पहले से ही आगे चल रही है।

लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए चार्टर्ड प्लेन और हेलीकॉप्टर की मदद तो लेनी ही पड़ती है, जिस पार्टी के पास आर्थिक संसाधन ज्यादा होते हैं, वह आगे निकल जाती है। पार्टी नेता आनंद शर्मा का दावा है कि भाजपा ने तो पहले ही प्रचार के मामले में सबको पछाड़ दिया है। बड़ी-बड़ी अंतरराष्ट्रीय कंपनियां जैसे अमेजन-फ्लिपकार्ट आदि भी भाजपा के प्रचार से बहुत पीछे रह गई हैं।

सरकार ने अभी 6 हजार करोड़ रुपए के प्रचार को मंजूरी दी है। पब्लिक अंडरटेकिंग वाले महकमें भी अलग से प्रचार में लगे हैं। पैसों के मामले में तो भाजपा कुबेर हैं। प्रचार का डाटा देखें तो भाजपा का हिस्सा 95 फीसदी है और बाकी बचे हिस्से में सभी दल शामिल हैं। शर्मा के मुताबिक, मोदी अपने सरकारी दौरों में पार्टी का प्रचार कर रह रहे हैं। इसकी बानगी वाराणसी के प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में देखने को मिली है। इस सरकारी आयोजन में भी मोदी विपक्ष को गाली देने में लगे हैं।

आनंद शर्मा का कहना है कि कांग्रेस पार्टी के पास प्रचार के संसाधन भले ही कम हैं, मगर वोटरों के भरोस के मामले में हम भाजपा से बहुत आगे रहेंगे। सोशल मीडिया का महत्व अपनी जगह है। डिजिटल से परे कांग्रेस पार्टी परंपरागत प्रचार पर भी जोर दे रही है। 
ऐसा नहीं है कि हर व्यक्ति डिजिटल माध्यम से जुड़ गया है। बहुत ऐसे क्षेत्र भी हैं, जहां लोगों की पहुंच इन संसाधनों तक नहीं है। वहां के लिए अलग से प्रचार की रणनीति तैयार की जा रही है। पार्टी कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों से संपर्क करेंगे। 

Related Stories:

RELATED नौसेना को मिलेंगे दशकों पुराने चेतक के बदले नये हेलिकॉप्टर