पुलवामा हमलाः मिशन 'ऑल आउट' के लिए भारत को मिला अमेरिका का साथ

वाशिंगटन: पुलवामा आंतकी हमले से पूरी दुनिया स्तब्ध है। ऐसे में विश्व की कई महाशक्तियों ने भारत से संवेदना व्यक्त करते हुए आंतकवाद के खिलाफ उसका साथ देने को कहा है।  मिशन 'ऑल आउट' के लिए भारत को समर्थन की घोषणा  करते अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने अपने भारतीय समकक्ष अजीत डोभाल से कहा कि उनका देश भारत के आत्म रक्षा के अधिकार का समर्थन करता है।  बोल्टन ने डोभाल को फोन करके जम्मू-कश्मीर में हुए आतंकवादी हमले के लिए संवेदनाएं जताई और भारत को आतंकवाद से लड़ाई में अमेरिका का पूरा समर्थन देने की पेशकश दी। उन्होंने कहा कि अमेरिका पुलवामा हमले दोषियों को सजा के लिए भारत की हर तरह सहायता  करने के लिए तैयार है।  अमेरिका ने मिशन 'ऑल आउट' के लिए भारत को मिला अमेरिका का साथ 



उन्होंने बताया, ‘‘मैंने आज अजीत डोभाल से कहा कि हम भारत के आत्म रक्षा के अधिकार का समर्थन करते हैं। मैंने आज सुबह सहित दो बार उनसे बात की और आतंकवादी हमले पर अमेरिका की ओर से संवेदनाएं व्यक्त की।’’ बोल्टन ने कहा कि अमेरिका पाकिस्तान द्वारा आतंकवादी पनाहगाहों को समर्थन देना बंद करने को लेकर बहुत स्पष्ट है।  उन्होंने कहा, ‘‘हम इस पर काफी स्पष्ट हैं और हम पाकिस्तान से इस पर बातचीत करते रहेंगे।’’     


गौरततलब है कि जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक बार फिर सुरक्षा बलों को निशाना बनाया है। श्रीनगर से सिर्फ 20 किलोमीटर दूर पुलवामा में अवंतिपुरा के गोरीपोरा इलाके में सुरक्षा बलों के काफिले पर जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन ने आत्मघाती हमला किया। इस धमाके में 40 जवान शहीद हो गए जबकि कईं जवानों के घायल होने का समाचार है। इनमें से कई जवानों की हालत गंभीर बनी हुई है। 

Related Stories:

RELATED पुलवामा हमले के बाद जनता के आगे... धुंधला पड़ा मोदी का ‘मास्टर स्ट्रोक’