ए.डी.सी.पी. भंडाल व ए.डी.सी.पी. सुडरविजी के कमरे बदले

जालंधर(सुधीर): पंजाब सरकार द्वारा पंजाब पुलिस के अधिकारियों के तबादलों को लेकर कमिश्नरेट पुलिस के 2 अधिकारियों के भी तबादले कर उनके कमरे बदल दिए गए। शहर के तेजतर्रार ए.डी.सी.पी. सिटी-1 परमिंद्र सिंह भंडाल को ए.डी.सी.पी. सिटी-2 तैनात कर दिया गया, जबकि महिला आई.पी.एस. अधिकारी डी. सुडरविजी को ए.डी.सी.पी. सिटी-1 लगाया गया है। 

लोगों के सहयोग से ही पाया जा सकता है अपराध पर काबू : भंडाल
उल्लेखनीय है कि परमिंद्र सिंह भंडाल ने कुछ समय पहले ही फगवाड़ा से तबदील होकर शहर में ए.डी.सी.पी. सिटी-1 का चार्ज संभाला था और उन्होंने शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई अपराधियों पर अपना डंडा चलाकर उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचाया।  पहले भी भंडाल शहर में ए.डी.सी.पी. सिटी-2 के पद पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। ‘पंजाब केसरी’ से विशेष बातचीत दौरान ए.डी.सी.पी. भंडाल ने बताया कि लोगों के सहयोग से अपराध पर काबू पाया जा सकता है, पहले भी लोगों का उन्हें पूरा सहयोग मिलता रहा है और आगे भी उम्मीद है। आने वाले चुनावों को कमिश्नरेट पुलिस द्वारा बड़ी सक्रियता से करवाया जाएगा और क्षेत्र में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए जाएंगे।

महिलाओं की सुरक्षा को बनाया जाएगा यकीनी :  सुडरविजी
महिला आई.पी.एस. अधिकारी डी. सुडरविजी भी पहले थाना नं. 5 में भी अपनी सेवाएं दे चुकी हैं जिसके बाद उन्हें शहर में ए.डी.सी.पी. सिटी-2 तैनात किया गया था। काफी समय बीत जाने के बाद अब उन्हें ए.डी.सी.पी. सिटी-1 की कमान सौंपी गई है। कई अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाने वाली आई.पी.एस. महिला अधिकारी डी. सुडरविजी ने चार्ज संभालते ही बोला जालंधर उनके लिए नया नहीं है क्योंकि पिछले काफी समय से वह यहां अपनी सेवाएं दे रही हैं। शहर में लॉ एंड ऑर्डर को पूरा मैनटेन करके रखा जाएगा। इसके साथ ही शहर में नशा तस्करों व सट्टेबाजों पर पुलिस का कानूनी डंडा चलेगा। महिलाओं की सुरक्षा को यकीनी बनाया जाएगा व उनका पूरा प्रयास रहेगा कि पुलिस की सख्ती के चलते लोग अपने आप को शहर में सुरक्षित महसूस करें। उन्होंने लोगों से भी अपील कि किसी भी संदिग्ध व्यक्ति की सूचना तुरंत पुलिस को दें।

लंबे समय बाद एस.पी. रविन्द्र पाल सिंह संधू वापस लौटे
कमिश्नरेट पुलिस में काफी समय तक सेवाएं देने के करीब 2 साल बाद एस.पी. रविन्द्र पाल सिंह संधू का फतेहगढ़ साहिब से तबादला करके उन्हें जालंधर देहात में बतौर एस.पी. हैडक्वार्टर की कमान सौंपी गई है। उल्लेखनीय है कि एस.पी. रविन्द्र पाल सिंह संधू का जालंधर से पुराना नाता है, वह पहले भी यहां बतौर ए.सी.पी. वैस्ट, प्रमोट होने पर ए.डी.सी.पी. सिटी-2 और बाद में ए.डी.सी.पी. इंडस्ट्रीयल सिक्योरिटी के पद पर अपनी सेवाएं देकर कई अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचा चुके हैं। उन्होंने बताया कि लोगों को थानों में इंसाफ मिले व उनकी शिकायतों का पहल के आधार पर निपटारा हो यह उनकी पहल होगी। 

स्पोर्ट्स कोटे में प्रमोट हुए ए.सी.पी नॉर्थ की है जालंधर में पहली पोस्टिंग
वहीं, दूसरी तरफ ए.सी.पी. नॉर्थ नवनीत सिंह माहल के तबादले के बाद लुधियाना से आए जसभिन्द्र सिंह ने बतौर ए.सी.पी. नॉर्थ का चार्ज संभाला। उन्होंने बताया कि वह लुधियाना में काफी समय तक थाना नं. 6 में थाना प्रभारी के पद पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। कुछ समय पहले ही पंजाब सरकार द्वारा स्पोर्ट्स कोटे में उन्हें प्रमोट कर ए.सी.पी. बनाया गया है। बतौर ए.सी.पी. जालंधर में उनकी पहली पोसिं्टग है। शहर में अमन-शांति व लॉ एंड ऑर्डर पूरा मैनटेन कर रखा जाएगा व नशा तस्करों व चोर-लुटेरों पर कमिश्नरेट पुलिस का डंडा चलेगा।

Related Stories:

RELATED थाना कैंट पहुंचे ADCP भंडाल, जवानों को मुस्तैद रहने के दिए निर्देश