जानें: TGT, PGT और TET के बारे में, इन कोर्स को करके टीचिंग में बना सकते हैं करियर

नई दिल्ली: शिक्षक दिवस 5 सिंतबर को मनाया जाता है। लेकिन टीचर बनने के लिए किसी विषय में सिर्फ कोर्स करना ही काफी नहीं है। इसके लिए आपको कुछ विशेष परीक्षाएं भी पास करनी होती है। आइये देखते हैं टीचर बनने के लिए कौन-कौन सी परीक्षाएं देनी होती हैं...

 

टीजीटी और पीजीटी परीक्षा राज्य स्तर में आयोजित की जाती है.।टीजीटी (Trained Graduate Teacher) परीक्षा में आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को ग्रेजुएट और बीएड होना अनिवार्य है और वहीं पीजीटी (Post Graduate Teacher) परीक्षा के लिए उम्मीदवार को पोस्ट ग्रेजुएट के साथ बीएड पास होना भी अनिवार्य है। यदि उम्मीदवार टीजीटी परीक्षा पास कर लेते हैं.. तो वह शिक्षक के रूप में 6th क्लास से 10th क्लास के बच्चों को पढ़ा सकता है। यदि उम्मीदवार पीजीटी परीक्षा पास कर लेता है तो वह 10th क्लास से 12th क्लास तक के बच्चों को पढ़ा सकता है।

 

उम्मीदवार बीएड परीक्षा के बाद TET यानी कि (Teacher Eligibility Test) परीक्षा में भी दे सकता है। जो उम्मीदवार टेट की परीक्षा पास कर लेते हैं तो सरकारी सेक्टर में टीचर बनने का रास्ता साफ हो जाता है।

 

यदि उम्मीदवार कॉलेज में लेक्चरर की नौकरी चाहता है तो उस उम्मीदवार को यह परीक्षा पास करनी पड़ती है। UGC नेट (National Eligibility Test) की यह परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है। पहले इस परीक्षा में तीन पेपर होते थे लेकिन इस साल से 2 पेपर ही आयोजित किए जाते हैं।
 

Related Stories:

RELATED भारतीय मां-बाप चाहते हैं उनके बच्चे चुनें टीचिंग का करियर