कांग्रेस धक्के व धोखे से जीतना  चाहती है चुनाव : चीमा

चंडीगढ़(अश्वनी):अकाली उम्मीदवारों के नामांकन पत्र बिना कारण रद्द करने पर शिरोमणि अकाली दल ने इसे कांग्रेस द्वारा धक्के व धोखे से चुनाव जीतना बताया है। पार्टी प्रवक्ता डा. दलजीत सिंह चीमा ने बताया कि बहुत से स्थानों पर अकाली दल के उम्मीदवारों के नामांकन पत्र रद्द किए गए हैं जिससे साफ है कि संबंधित अधिकारियों को स्पष्ट हिदायतें दी गई थीं कि किसी भी कीमत पर अकाली उम्मीदवारों के नामांकन स्वीकार नहीं होने चाहिएं। 

डा. चीमा ने बताया कि ब्लॉक समिति वलटोहा में 18 उम्मीदवारों में से 15 के नामांकन रद्द कर दिए गए हैं। इस तरह भिखीविंड में 24 में से 20 उम्मीदवारों के नामांकन रद्द किए गए हैं जबकि तरनतारन में और गंडीविंड ब्लॉक समिति में 70 फीसदी नामांकन रद्द किए गए हैं। जो व्यक्ति कांग्रेस पार्टी के साथ संबंधित नहीं थे या जिन्होंने सत्तापक्ष पार्टी को चुनौैती दी थी, एक साजिश के तहत उन सभी के नामांकन रद्द कर उनको चुनाव लडऩे के लोकतंत्रीय अधिकार से वंचित किया गया है।

चुनाव आयोग को लिखे पत्र में डा. चीमा ने अपील की कि वह बड़े स्तर पर रद्द हुए नामांकनों की जांच के आदेश दें। जिन स्थानों पर नामांकन पत्र गलत ढंग से रद्द किए गए हैं, जिन उम्मीदवारों के नामांकन पत्र दाखिल करने में प्रबंधकीय अड़चनें डाली गई हैं, वहां चुनावों को रद्द करने का आदेश दें। इसके अलावा डा. चीमा ने कसूरवार अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!