बारिश से गंदे नाले में पड़ी दरार; 500 एकड़ फसल डूबी

तपा मंडी (गर्ग,शाम):दराज रोड पर स्थित नहरी विभाग की लापरवाही कारण गंदे नाले की सफाई न होने से बारिश का पानी ओवरफ्लो होकर 15 फुट की दरार पडऩे से लगभग 500 एकड़ फसल पानी में डूब गई। लोगों ने रोष व्यक्त कर बताया कि प्रशासन द्वारा लंबे समय से सिर्फ कागजों में सफाई की जा रही है परन्तु कोई भी नहरी विभाग का अधिकारी-कर्मचारी इसकी सुध नहीं लेता। बीते दिनों पड़ी भारी वर्षा कारण नाले में बूटी उगी होने से बारिश का पानी ओवरफ्लो हो गया जिससे नाले में 15-20 फुट चौड़ी दरार पड़ गई जिससे धान और नरमे की फसल डूब गई। जब दरार बारे किसानों को पता चला तो बड़ी संख्या में वे पारिवारिक सदस्यों सहित ट्रैक्टर-ट्रालियां, खेतीबाड़ी यंत्र लेकर दरार को बंद करने में जुट गए परन्तु पानी का बहाव तेज होने के कारण दरार बंद नहीं हो सकी जिससे किसानों ने जे.सी.बी. का प्रबंध किया परन्तु जिला प्रशासन को बार-बार फोन करने पर भी न पहुंचे तो एक्सियन कुलजीत सिंह, एस.डी.ओ. बूटा सिंह अपने कर्मचारियों के साथ मौके का मुआयना करने उपरांत लौटने लगे तो गांव निवासियों ने उनका का घेराव किया और गुस्से में आए किसानों ने प्रशासन के खिलाफ रोष प्रकट कर कहा कि अगर और वर्षा पड़ी तो पड़ा दरार बंद होने वाली नहीं है और फसल का बड़े स्तर पर नुक्सान हो जाएगा। 


इस मार्ग पर यातायात प्रभावित होने के कारण लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा। जब एक्सियन से बात की गई तो उन्होंने बताया कि नाले की हर साल सफाई करवाई जाती है, अब भी सफाई करवाई गई थी परन्तु बरसाती मौसम होने के कारण जंगली बूटी उग आई है। उन्होंने कहा कि मतदान कारण बिल न बनने से फंडों की कमी कारण सफाई का कार्य अधर में था। अब मौके पर पहुंचकर दरार बंद करने में लगे हुए हैं। खबर लिखे जाने तक दरार बंद करने में किसान जुटे हुए थे। इस मौके पर सरपंच गुरजंट सिंह दराज, अवतार सिंह, भोला सिंह, जग्गा सिंह, राम सिंह, हरपाल सिंह, कुलवीर सिंह, जगसीर सिंह, भोला सिंह, बिक्कर सिंह आदि बड़ी संख्या में किसान, मजदूर उपस्थित थे।
 

Related Stories:

RELATED बारिश व ड्रेन के सफाई न होने से फसल हुई बर्बाद, भरा साढ़े चार फुट तक पानी