इस बच्ची के लिए श्राप बनने वाली हैं उसकी खूबसूरत आंखें, चौंका देगा राज

वॉशिंगटनः बड़ी आंखों को आम तौर चेहरे की खासियत के रूप में देखा जाता है और  जिस व्यक्ति की आंखें सुंदर और आकर्षक होती हैं वह हर किसी का ध्यान अनायास ही अपनी तरफ खींच लेता है।  लेकिन अमरीका में एक 2 साल की बच्ची  मेहलानी मार्टिनेज के लिए उसकी  बड़ी-बड़ी खूबसूरत आंखें श्राप बनने वाली हैं। कैलिफोर्निया की रहने वाली मेहलानी को देखने वाले एक बार उसकी खूबसूरती की तारीफ जरूर करते हैं। मगर, इतनी खूबसूरत आंखों के बावजूद वह भविष्य में दृष्टिहीन हो सकती है। दरअसल, कुछ मामलों में आकर्षक आंखें आनुवांशिक विकार की वजह से भी हो सकती हैं।


मेहलानी एक दुर्लभ विकार से पीड़ित है, जिसे एक्सनफेल्ड-गीजर सिंड्रोम कहा जाता है। इस सिंड्रोम से पीड़ित लोगों की आंखों की आयरिश (आंखों का रंगीन हिस्सा) छोटी होती हैं या कई बार नहीं भी हो सकती हैं। जिससे ऐसा लगता है कि आंख में रंगीन हिस्सा नहीं है, लिहाजा आंखों की पुतली बड़ी हो जाती है। आंख के केंद्र में छेद होता है, जिसे पुतली कहा जाता है। पुतली के बडे़ होने की स्थिति वाले बच्चे आमतौर पर प्रकाश के प्रति ज्यादा ही संवेदनशील होते हैं। दरअसल, पुतली से ही प्रकाश आंख में जाता है। यही कारण है कि मेहलानी को हर समय धूप का चश्मा पहनना पड़ता है।

यह सिंड्रोम दो लाख में से किसी एक बच्चे को ही होता है और उनमें से करीब आधे बच्चो ग्लूकोमा से भी पीड़ित होते हैं। मेहलानी के साथ ही ऐसी ही समस्या थी और इसका पता तब चला, जब वह एक साल की हो गई। उसकी 21 वर्षीय मां करीना ने मेहलानी की तस्वीर के साथ ही उसके विकार के बारे में एक पोस्ट सोशल मीडिया में की। देखते ही देखते यह पोस्ट वायरल हो गई। इसके बाद कई लोगों ने अच्छे कमेंट किए। करीब 40 लोगों ने करीना को बताया कि उनके बच्चों या परिवार के किसी सदस्य को भी यह बीमारी है और वे स्वस्थ्य व सामान्य जीवन जी रहे हैं। यह सुनकर करीना अच्छा महसूस कर रही हैं कि उनकी बेटी इस बीमारी की शिकार होने वाली अकेली नहीं है और वह भी अच्छा जीवन जी सकती है। 

 

 

Related Stories:

RELATED भारत के जंगलों में घुसे ये पाकिस्तानी जानवर, वैज्ञानिक हो रहे हैरान