गेहूं स्टाक में आग लगने से मंडी में मची अफरा-तफरी

इस्माईलाबाद(शर्मा): अनाजमंडी में सरकारी एजैंसियों द्वारा खरीदी गई गेहूं में अज्ञात कारणों से आग लग गई। जिससे मंडी में अफरा-तफरी मच गई। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी बलदेव सिंह मौके पर पहुंचे तथा मंडी प्रधान महिंद्र सिंह थांदडों तथा मंडी एसोसिएशन के सदस्य भी मौके पर पहुंचे तथा बड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। सोमवार को दोपहर अनाजमंडी में रामस्वरूप गुलाब सिंह, खालसा ट्रेडिंग कम्पनी तथा ए.के. एंड कम्पनी फर्म के खाद्य एवं आपूर्ति विभाग और हैफेड द्वारा खरीदे गए गेहूं जोकि अनाज मंडी के सरकारी फड़ पर लगे हुए थे, में अचानक आग लग गई।

सूचना मिलते ही फायरब्रिगेड की गाडिय़ां भी मौके पर पहुंची। कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। रामस्वरूप गुलाब सिंह फर्म के करीब 6 हजार कट्टों का स्टाक लगा हुआ था, जिसमें से करीब 3 हजार कट्टों को आग ने चपेट में ले लिया। खालसा ट्रेडिंग कम्पनी 6 हजार कट्टों के स्टाक में आग लगी जिसमें करीब 3 हजार कट्टों का नुक्सान होने का अनुमान है। वहीं, ए.के. एंड कम्पनी के 1200 कट्टों के स्टाक में आग लगी जिसमें करीब 500 कट्टों के आग से खराब होने का अनुमान है। मंडी प्रधान महिंद्र सिंह थांदडों में बताया कि मंडी में गेहूं के कट्टों में लगी आग के कारणों का अभी पता नहीं चला है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!