चीन का पलटवार, 60 अरब डॉलर के अमेरिकी उत्पादों पर लगाया आयात शुल्क

बीजिंगः चीन और अमेरिका के बीच व्यापार युद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को अमेरिका ने चीन के 200 अरब डॉलर (करीब 14.50 लाख करोड़ रुपए) के उत्पादों पर आयात शुल्क लगाया था। इसके बाद चीन ने जवाबी कार्रवाई करते हुए मंगलवार को अमेरिका के 60 अरब डॉलर (करीब 4.36 लाख करोड़ रुपए) के उत्पादों पर आयात शुल्क बढ़ाने की घोषणा की।

24 सितंबर से लागू होंगे शुल्क
राज्य परिषद की कस्टम्स टैरिफ कमीशन के मुताबिक, ये बढ़े हुए शुल्क 24 सितंबर से लागू होंगे। वाणिज्य मंत्रालय ने बताया कि चीन ने इसके अलावा अमेरिकी फैसले के खिलाफ विश्व व्यापार संगठन में एक और शिकायत दाखिल की है। इससे पहले अमेरिका 200 अरब डॉलर मूल्य के चीनी आयात पर शुल्क बढ़ा दिया था।

चीनी उत्पादों पर 200 अरब डॉलर के आयात शुल्क 
बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 200 अरब डॉलर के चीनी उत्पादों पर 10 फीसदी आयात शुल्क लगाने का फैसला किया है। यह शुल्क इस महीने के अंत तक लगाया जाएगा, जबकि इस साल के अंत तक इसे बढ़ाकर 25 फीसदी किया जाएगा। ट्रम्प के इस कदम से चीन के साथ अमेरिका का व्यापार युद्ध और तेज होगा।

ट्रम्प प्रशासन ने सोमवार को कहा कि यह अतिरिक्त आयात शुल्क 24 सितंबर से प्रभावी होगा। इससे पहले इस साल की शुरुआत में अमेरिका चीन के 50 अरब डॉलर के उत्पादों पर भी शुल्क लगा चुका है। इस तरह, कुल मिलाकर हर साल अमेरिका में बिकने वाले चीनी उत्पाद बुरी तरह से प्रभावित होंगे। जुलाई में ट्रम्प प्रशासन ने हजारों उत्पादों की एक सूची प्रकाशित की थी, जिन पर शुल्क लगाना है। हालांकि, बाद में स्मार्टवॉच, स्वास्थ्य एवं सुरक्षा उपकरण, बच्चों के प्लेपेन सहित 300 से अधिक उत्पादों को सूची से बाहर कर दिया था।

Related Stories:

RELATED अमेरिका ने कीं चीन के साथ उचित व्यापार सौदे के लिए शर्तें तय