उच्च शिक्षा के लिए यूरोप में चुने गए 400 छात्र

 नई दिल्लीःयूरोपीय संघ के वित्त पोषण वाली छात्रवृत्ति के तहत इस साल यूरोप में उच्च शिक्षा के लिए कुल 400 छात्र चुने गए हैं और इनमें से 73 छात्र इस सेमेस्टर से ही पढ़ाई करेंगे।  
  

      

चुने गए छात्रों में से कुछ ने 29 अगस्त को भारत में यूरोपीय संघ के राजदूत तोमास्ज कोजलोव्स्की से मुलाकात की जिन्होंने छात्रों को उनके उत्कृष्ट नतीजों के लिए बधाई दी तथा उन्हें यूरोप में पढ़ाई के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, ‘‘लोगों के बीच की खाइयों को भरने और आपसी संपर्क को बढ़ावा देने के मकसद से 30 साल पहले यूरोपीय संघ से बाहर के देशों में इरास्मस शुरू की गई तब से भारतीय छात्र इस छात्रवृत्ति के शीर्ष लाभार्थियों में से एक हैं।’’


उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय छात्रों के लिए यूरोप सर्वश्रेष्ठ स्थान है। यूरोपीय विश्वविद्यालय सुरक्षित और सांस्कृतिक रूप से प्रेरक माहौल में उच्च स्तरीय शिक्षा और शोध की सुविधा मुहैया कराते हैं। इरास्मस छात्र होना एक अविस्मरणीय, समृद्ध अनुभव होगा और इससे छात्र के करियर के अवसर बेहतर होंगे।’’     साल 2014 से लेकर अब तक 330 भारतीय उच्च शिक्षण संस्थान इरास्मस कार्यक्रम का हिस्सा बन गए हैं और उनके इस शैक्षिक सहयोग को आगे बढ़ाने की रूचि है। 

Related Stories:

RELATED विदेश में पढ़ना चाहते हैं तो दुनिया के इन देशों में मिलती है ''फ्री'' एजुकेशन!