2007 हैदराबाद ब्लास्ट: 11 साल बाद आया फैसला, 2 दोषी करार व 2 बरी

नई दिल्लीः 2007 को हैदराबाद में हुए डबल ब्लास्ट केस में NIA की स्पेशल कोर्ट ने दो आरोपियों को दोषी करार दिया है। कोर्ट में अपना फैसला सुनाते हुए कोर्ट ने  डबल ब्लास्ट के आरोपी अनीक शफीक सईद और इस्माइल चौधरी को दोषी करार दिया जबकि इस मामले के दो अन्य आरोपियों को बरी कर दिया गया है। दोषियों की सजा का ऐलान भी आज ही होगा।

42 लोगों की गई जान
25 अगस्त, 2007 को हैदराबाद में हुए धमाकों में 42 लोगों की जान चली गई थी व 50 से ज्यादा घायल हुए थे। इन दो बम धमाकों में पहला ब्लॉस्ट खाने-पीने के लिए मशहूर कोटी इलाके के गोकुल चाट भंडार में हुआ था तो वहीं, दूसरा शहर के व्यस्तम टूरिस्ट स्पॉट लुम्ब‍िनी पार्क में हुआ। धमाकों के बाद पुलिस को दो अलग जगहों से दो जिंदा IED भी बरामद हुए थे। बम फटने के बाद आसपास लाशों के ढेर लग गए थे। सभी तरफ दर्दभरी चीखों-पुकार थीं। मरने वालों में से ज्यादातर छात्र थे, जो कि महाराष्ट्र के रहने वाले थे। इस मामले में पहली गिरफ्तारी जनवरी 2009 में हुई थी।

Related Stories:

RELATED हैदराबाद सीरियल ब्लास्टः दो को सजा-ए-मौत, एक को उम्रकैद