माली में सबसे बड़ा जिहादी हमला, 110 लोगों की मौत

बमाको: मध्य माली के पियूल समुदाय के एक गांव में पारंपरिक शिकारी समुदाय डोगोन के हमले में शनिवार को कम से कम 110 लोगों की मौत हो गई। एक सैन्य सूत्र ने कहा कि पियूल गांव में पारंपरिक शिकारियों ने ओगोसागोउ गांव में हमला करके कम से कम 110 आम लोगों की हत्या कर दी। घटनास्थल के करीबी शहर बंकास के मेयर गुइंदो ने घटना की पुष्टि करते हुए इसे क्षेत्र में जातीय और जिहादी हिंसा के कारण होने वाला आज तक का सबसे बड़ा हमला करार दिया है। 


मेयर गुइंदो ने कहा, पारंपरिक दोंजो शिकारी की वेशभूषा पहनकर पहुंचे हमलावरों ने सुबह 4 बजे के करीब ओगोसागू को घेरकर उस पर हमला बोला। वहां बड़ी संख्या में मौत हुई हैं और पूरा गांव ध्वस्त हो गया है। पीड़ित लोगों में गर्भवती महिलाएं, छोटे बच्चे और बुजुर्ग भी शामिल हैं। ओगोसागू के एक ग्रामीण ने बताया कि यह हमला अलकायदा से जुड़े उस संगठन के खिलाफ बदले की कार्रवाई था, जिसने शुक्रवार को पिछले सप्ताह हुए हमले में 23 सैनिकों को मारने की जिम्मेदारी ली थी। 
  

Related Stories:

RELATED मायावती का हमला- मोदी ने यूपी की जनता के साथ वादाखिलाफी व विश्वासघात क्यों किया?