क्यों हारा पाकिस्तान से भारत? मैच के बाद कोहली ने बताई असली वजह

Sunday, June 18, 2017 10:18 PM
क्यों हारा पाकिस्तान से भारत? मैच के बाद कोहली ने बताई असली वजह

लंदन: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पाकिस्तान से आईसीसी चैंपियंस ट्राफी का फाइनल रविवार को 180 रन के बड़े अंतर से हारने के बाद कहा कि फाइनल हारना निराशाजनक रहा। विराट ने मैच के बाद कहा कि पाकिस्तान को जीत का पूरा श्रेय जाता है जिसने हमें खेल के तीनों विभागों में पछाड़ दिया। हमने बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में ही अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। उन्होंने पाकिस्तान से मिली हार का कारण बताते हुए कहा कि गेंदबाजी में हम विकेट निकाल सकते थे जो हम नहीं कर सके। पिच पूरे मैच के दौरान एकसमान थी लेकिन हमारे बल्लेबाजों ने विकेट पर टिकने का धैर्य नहीं दिखाया।

छोटी चीजें आखिर में बड़ी हो जाती हैं
भारतीय कप्तान को इस बात का अफसोस रहा कि इस मैच में शतक जमाने वाले फखर जमान का विकेट उन्हें नो बॉल के कारण नहीं मिल पाया। उन्होंने कहा कि कई बार छोटी चीजें आखिर में बड़ी हो जाती हैं। हमने पहले भी ऐसा देखा है और यहां फाइनल में भी ऐसा हो गया। विराट ने विजेता पाकिस्तानी टीम को बधाई देते हुये कहा कि मैं पाकिस्तान को बधाई देना चाहता हूं जिन्होंने शानदार टूर्नामेंट खेला। उन्होंने जिस तरह वापसी की वह यह दर्शाता कराता है कि उनमें कितनी प्रतिभा है। उन्होंने एक बार फिर साबित किया कि वे अपने दिन किसी भी टीम को हरा सकते हैं।

गेंदबाजी का फैसला लेना गलत नहीं था
विराट ने कहा कि मैं फाइनल में हारने पर निराश हूं लेकिन मुझे इस बात की खुशी है कि हमारी टीम ने टूर्नामेंट में शानदार खेल दिखाया और फाइनल तक पहुंची। पाकिस्तानी टीम तीनों विभाग में बेहतर रही जिससे एक बात साबित होती है कि आपको किसी टीम को हल्के में नहीं लेना चाहिये। आज के दिन टीम पाकिस्तानी टीम में हमसे ज्यादा जोश और जुनून दिखाई दिया। कप्तान ने कहा कि हमने अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ करने की कोशिश की लेकिन बल्ले के बाद गेंद से पाकिस्तानी ज्यादा आक्रामक थे। हमने हार्दिक को छोड़कर कोई प्रतिरोध नहीं दिखाया। हार्दिक की पारी शानदार रही। टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने के फैसले को सही ठहराते हुये विराट ने कहा कि यह फैसला गलत नहीं था। पिच पूरे मैच में एक जैसा ही व्यवहार कर रही थी। लेकिन हम अपनी ताकत का सही इस्तेमाल नहीं कर सके। हमें अपनी गलतियों से सीख लेकर आगे बढऩा होगा।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !