डोप टेस्ट में बरी हुई जमैका की धाविका कैलिस स्पेंसर

Wednesday, June 14, 2017 10:33 AM
डोप टेस्ट में बरी हुई जमैका की धाविका कैलिस स्पेंसर

किंग्सटन:  2014 के राष्ट्रमंडल खेलों में 400 मीटर बाधा दौड़ की चैंपियन जमैका की धाविका कैलिस स्पेंसर डोप टैस्ट में बरी हो गई हैं और अब वह तुरंत प्रभाव से विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में हिस्सा ले सकेंगी। 

30 वर्षीय स्पेंसर के डोप टेस्ट के मामले की सुनवाई एक तीन सदस्यीय स्वतंत्र अनुशासनिक पैनल ने की। पैनल की अध्यक्षता कर रहे अटॉर्नी केंट गैमन ने स्पेंसर के बरी होने की पुष्टि करते हुए कहा कि स्पेंसर पर आरोप तय करने वाला जमैका डोपिंग रोधी आयोग (जेएडीसीओ) इस बात को साबित नहीं कर पाया है कि स्पेंसर का डोप टेस्ट विश्व एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) के नियमों के तहत किया गया था। 

गैमन ने मामले की दो दिवसीय सुनवाई मई में जमैका कांफ्रेंस सेंटर में की थी। गैमन ने यहां संवाददाताओं को जानकारी देते हुए कहा कि मामले की सुनवाई के बाद हम इस बात पर सहमत नहीं हैं कि स्पेंसर ने डोपिंग रोधी अनुशासनिक कमीशन नियमों के अनुच्छेद 2.3 का उल्लंघन किया था।

स्पेंसर के डोप टेस्ट में बरी होने का मतलब है कि उन पर लगा चार वर्ष का प्रतिबंध समाप्त हो गया है और वह वह अब तुरंत प्रभाव से विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में भाग ले सकती हैं। इस निर्णय के बाद 2009 की विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाली स्पेंसर अब 22 से 25 जून तक होने वाली जमैका की राष्ट्रीय सीनियर चैंपियनशिप में हिस्सा ले सकेंगी। इस चैंपियनशिप से 4 से 13 अगस्त में होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिये कैरेबियाई टीम का चयन किया जाएगा। 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !