अब तक किसी भी भारतीय खिलाड़ी को नहीं मिला हॉकी का आस्कर

Thursday, February 23, 2017 5:52 PM
अब तक किसी भी भारतीय खिलाड़ी को नहीं मिला हॉकी का आस्कर

चंडीगढ़: ब्रिटेन के जॉन-जॉन डोहेमैन और हालैंड की नाओमी वान एस को वर्ष 2016 के सर्वश्रेष्ठ पुरूष और महिला खिलाडिय़ों के हॉकी स्टार्स अवार्ड से गुरूवार को सम्मानित किया गया लेकिन हॉकी का ऑस्कर कहे जाने वाले इन पुरस्कारों में किसी भारतीय को यह सम्मान नहीं मिल पाया। हॉकी इंडिया(एचआई) ने यहां आयोजित इस सम्मान समारोह में खिलाडिय़ों को हॉकी के आस्कर कहे जाने वाले इन पुरस्कारों से सम्मानित किया। लेकिन किसी भारतीय को कोई भी पुरस्कार नहीं मिल पाया। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गोलकीपरों में शुमार भारत के पी आर श्रीजेश को गोलकीपर और हरमनप्रीत सिंह को सर्वश्रेष्ठ उभरते खिलाड़ी के पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था। लेकिन दोनों ही भारतीयों को पुरस्कार नहीं मिल सका।   

श्रीजेश की अगुआई में भारत ने एशियाई चेंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीता था जबकि टीम पिछले साल चैम्पियन्स ट्रॉफी में उप विजेता रही थी। दूसरी तरफ ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत ने लखनऊ में जूनियर विश्व कप में भारतीय टीम की खिताबी जीत में अहम भूमिका निभाई थी। अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने खिलाडिय़ों, गोलकीपर, राइजिंग स्टार, कोच तथा अंपायरों के लिये एफआईएच हॉकी स्टार्स अवार्ड से सम्मानित किया। पहली बार पुरस्कार समारोह का आयोजन भारत में किया गया। समारोह एक पांच सितारा होटल में हुआ।  

ब्रिटेन की मैडी ङ्क्षहच और आयरलैंड के डेविड हार्टे को वर्ष के सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर अवार्ड से सम्मानित किया गया। अर्जेंटीना की मारिया ग्रैनाटो को महिला राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर के पुरस्कार से नवाजा गया। मारिया ने 2016 हॉकी चैंपियंस ट्रॉफी में अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी और लंदन में हुये टूर्नामेंट में तीन गोल दागे थे। उन्हें नवंबर में हॉकी जूनियर विश्वकप चैंपियन और सर्वश्रेष्ठ जूनियर खिलाड़ी के अवार्ड से भी सम्मानित किया गया था। 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !