फोर्ब्स की ट्रंप को सलाह- सफलता के लिए मोदी को बना लें गुरू

Monday, January 22, 2018 5:50 PM
फोर्ब्स की ट्रंप को सलाह- सफलता के लिए मोदी को बना लें गुरू

दावोस: वर्ल्ड इकॉनोमिक फोरम के मंच से दुनिया को भारत की अर्थव्यवस्था और निवेश से जुड़ा मंत्र देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार सुबह दावोस रवाना हुए हैं। यहां  कार्यक्रम की शुरुआत मोदी के भाषण से होगी, तो अंत अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के संबोधन से होगा। इस बीच मोदी के लिए विदेश से एक बड़ी खबर आई है। फोर्ब्स में छपे एक आर्टिकल में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप को नरेंद्र मोदी से नसीहत लेने की बात कही गई है।

यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के प्रोफेसर सालवेटोर बबोंस ने अपने लेख में पीएम मोदी की जमकर तारीफ की है। उन्होंने लिखा है कि वर्ल्ड इकॉमोनिक फोरम में सभी की नजरें मोदी पर टिकी हैं। चूंकि अमरीका इस समय शटडाउन की तकलीफ से जूझ रहा है, इसलिए ट्रंप का वहां आना तय नहीं है, लेकिन अगर वो आते भी हैं तो उनका इंतजार इस तरह से नहीं हो रहा है जिस तरह मोदी का हो रहा है।

लेख में उन्होंने  ट्रंप को सलाह दी है कि उन्होंने नरेंद्र मोदी को अपना गुरु (रोल मॉडल)बना लेना चाहिए। उन्हें अगर अपने मिडटर्म्स चुनाव जीतने हैं तो मोदी से सलाह लेनी चाहिए। मोदी ने जिसतरह अपने देश में पिछले कुछ समय में फैसले किए हैं और अंतर्राष्ट्रीय मंच पर उभर कर आए हैं वह सराहनीय है। उन्होंने लिखा कि मोदी ने अपने देश की अर्थव्यवस्था को बुरी स्थिति से आगे की ओर बढ़ाया है, लेकिन ट्रंप की अगुवाई में अमरीका आर्थिक संकट झेलने की कगार पर खड़ा है।

उन्होंने पिछले चार साल के कार्यकाल में मोदी सरकार के कई फैसले की तारीफ की। उन्होंने लिखा कि मोदी ने राजनीतिक और इकॉनोमिक लेवल पर भारत को आगे बढ़ाया है। शायद, महात्मा गांधी के बाद वह भारत के देश के अंदर और बाहर सबसे पॉपुलर नेता हैं। उन्होंने लिखा कि मोदी ने कई बार कुछ ऐसे फैसले लिए हैं जो कड़े हैं लेकिन लोगों की नजर में पसंदीदा नहीं रहे  लेकिन इन फैसलों के असर से भारत को लाभ हुआ है। 2014 के बाद से ही मोदी एक वर्ल्ड लीडर के तौर पर उभरे हैं। ब्रिटेन, अमरीका, ऑस्ट्रेलिया, इसराईल जैसे बड़े देशों ने उनका स्वागत किया है और सभी नेताओं ने मोदी के साथ अपने संबंधों को मजबूत करने की कोशिश की है।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन