सुंजवां हमले के बाद डरा पाक, भारत को दी 'सर्जिकल स्ट्राइक' न करने की चेतावनी

Monday, February 12, 2018 6:14 PM
सुंजवां हमले के बाद डरा पाक, भारत को दी 'सर्जिकल स्ट्राइक' न करने की चेतावनी

नेशनल डेस्क: जम्मू-कश्मीर में सुंजवां आर्मी कैंप पर आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान सतर्क हो गया। उसे डर है कि भारत बदला लेने के लिए फिर से सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है।सूत्रों के अनुसार अपनी इसी चिंता की वजह से पाकिस्तान ने भारत को चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि वह सुंजवान अटैक का बदला लेने के लिए इस तरह की कोई कार्रवाई ना करे जिससे हालात और तनावपूर्ण हो जाएं।

भारत के आरोपों को किया खारिज 
दरअसल भारतीय सेना ने सुंजवान कैंप पर हमले के लिए पाकिस्तान आधारित आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद को जिम्मेवार ठहराया जिन्हे पाकिस्तान ने खारिज कर दिया। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने आज बयान जारी कर कहा कि भारतीय पक्ष हमेशा से बिना उचित जांच किए गैर जिम्मेदाराना बयान देते हुए आरोप लगाता है। उन्होंने कहा कि जम्मू- कश्मीर में चल रहे सेना विद्रोह की ओर से ध्यान हटाने के लिए भारत ऐसे आरोप लगा रहा है। विदेश मंत्रालय ने भरोसा जताया कि कश्मीर में उत्पीड़न और मानवाधिकारों के उल्लंघनों को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय भारत पर दबाव बनाएगा। उन्होंने एलओसी पार किसी भी तरह की जवाबी कार्रवाई को लेकर भी भारत को चेताया। 

भारत ने 2016 में की थी सर्जिकल स्ट्राइक
वहीं जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद्य के मुताबिक सुंजवां में किए गए आतंकी हमले में जो आतंकवादी मारे गए हैं उनके पास से बड़ी संख्या में हथियार और गोलाबारूद बरामद हुआ है और ये सभी आतंकी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से ताल्लुक रखते हैं जिनका मुखिया मसूद अजहर है। हालांकि पाकिस्तान ने आतंकियों को पनाह देने की बात को नकार दिया है। बता दें कि 2016 में उड़ी में आतंकी हमला हुआ था, जिसमें देश के 18 जवान शहीद हो गए थे। जिसके बाद भारतीय सेना ने एलओसी पार किया और करीब 300 मीटर भीतर जाकर पीओके के रावलकोट सेक्टर में इस कार्रवाई को अंजाम दिया। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन