मैं कश्मीरी युवाओं के हाथों में पत्थर नहीं देखना चाहती: महबूबा

Friday, March 17, 2017 8:03 PM
मैं कश्मीरी युवाओं के हाथों में पत्थर नहीं देखना चाहती: महबूबा

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर की महबूबा ने एक बार फिर कश्मीरी युवाओं को पत्थरबाजी से दूर रहने को कहा है। उन्होंने कहा कि मैं अपने युवाओं के हाथों में पत्थर नहीं देखना चाहती हूं। मैं चाहती हूं कि वे भी तितलियों और पक्षियों के पीछे भागें। खुश रहें ना कि एक दूसरे पर पत्थर फैंके। गौरतलब है कि इससे पहले भी कश्मीर में पत्थरबाजों की आलोचना करने में महबूबा मुफ्ती काफी बयान दे चुकी हैं। उन्होंने युवाओं को पथराव की जगह खेलों और पढ़ाई में आगे आने को भी कहा। हांलाकि उनके इस बयान के कारण अलगाववादी खेमों में उनकी काफी आलोचना हुई।

 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !