आतंकी संगठन हिजबुल के मददगारों पर शिकंजा, फंडिंग पर ED ने दर्ज किया केस

Friday, March 17, 2017 12:33 PM
आतंकी संगठन हिजबुल के मददगारों पर शिकंजा, फंडिंग पर ED ने दर्ज किया केस

 जम्मू: आतंकियों को की जाने वाली फंडिंग के मामले में इन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट (इडी) ने हिज्बुल मुझाहीदीन से जुड़े मुबारक अली और इनायतउल्लाह वानी पर मामला दर्ज करवाया है। यह मामला प्रीवेन्शन ऑफ मनी लांडरिंग एक्ट के तहत दर्ज किया गया है। दोनों जम्मू कश्मीर के डोडा के रहने वाले हैं। दोनों को कुछ वर्ष पूर्व जम्मू कश्मीर पुलिस ने साढ़े पांच लाख की नकद राशि के साथ गिरफ्तार किया था जो अवैध पैसा था और जिसे में ााटी में हिज्ब आतंकी गुलाम नबी उर्फ जावेद कुरैशी को सौंपने वाले थे। पूछताछ के दौरान दोनों ने यह बात स्वीकार की थी कि उन्हें यह पैसा श्रीनगर के गुमनाम आतंकी से मिला था और जिसे जावेद कुरैशी को देना था, जो हिज्ब का आतंकी है। यह पैसा अतंकी गतिविधियों को बढ़ाने के लिए था। दोनों आरोपी आतंकी संगठन के भूमिगत वर्कर हैं जो हिज्ब की मद्द करते हैं।

मुबारक अली पेशे से लेबर ठेकेदार है जबकि इनायत ग्राम सुरक्षा समीति का सदस्य है। पीएमएलए के तहत हुई जांच में मुबारक अली ने कहा था कि जब्त की गई उसने और उसके ममेरे भाई इनायत ने उसके (मुबारक)के ईलाज के लिए रखी है, जिसे मुंह का कैंसर है। डाक्टरों ने जब मुबारक की जांच की तो उसे ऐसी कोई बिमारी नहीं पाई गई। वहीं डाक्टरों ने यह भी कहा कि अगर प्राइवेट ईलाज भी करवाया होगा तो उसकी ज्यादा से ज्सादा लागत दस हजार होगी। डाक्टरों के बयान के बाद दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया।ं

 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !