धरती का स्वर्ग बनेगा और सुंदर, फूलों से गुलजार होगा वादी-ए-कश्मीर

Thursday, April 20, 2017 2:03 PM
धरती का स्वर्ग बनेगा और सुंदर, फूलों से गुलजार होगा वादी-ए-कश्मीर

श्रीनगर : कश्मीर को और सुन्दर व आकर्षित बनाने के लिए घाटी के बगीचों और पार्कों का काम जोरो-शोरों से शुरू कर दिया गया है। सर्दियों के दौरान इस वर्ष घाटी में भारी मात्रा में बर्फबारी हुई है और लगातार वर्षा के कारण अधिकतम बगीचे और पार्क क्षतिग्रस्त हो गए हैं। वसंत के आने से मौसम की स्थिति में सुधार हुआ है जिसको देखते हुए इन्हें बेहतरीन बनाने का काम शुरू किया गया है।  

 

हर साल अप्रैल में शुरू होता है बगीचों को सुन्दर बनाने का काम

कश्मीर की प्राकृतिक सुंदरता व आकर्षक माहौल के कारण ये बगीचे, विशेष रूप से मुगल गार्डन पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए जबरदस्त भूमिका निभाते हैं। पुष्पक्रम के निदेशक मोहम्मद हुसैन मीर ने कहा है कि कश्मीर को बगीचों की घाटी कहा जाता है। यहा लगभग 200 बगीचें हैं जिनमें से कम से कम 116 श्रीनगर में ही हैं। फूलों की विभिन्न प्रजातियों को खिलने के लिए हमने पहले से ही काम शुरू कर दिया है। साथ ही बताया गया कि इसका मुख्य उद्देश्य पर्यटकों को आकर्षित करना व पार्कों को और भी अधिक सुंदर दिखाना है। उन्होंने कहा कि बगीचों को सुन्दर बानाने का काम अप्रैल में शुरू कर दिया जाता है क्योंकि अगले महीनों में यहां गर्मी बढ़ जाती है। 




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !