ट्रंप इन्हें समझते हैं अपना सबसे बड़ा दुश्मन, जानकर रह जाएंगे हैरान !

Saturday, June 17, 2017 1:10 PM
ट्रंप इन्हें समझते हैं अपना सबसे बड़ा दुश्मन, जानकर रह जाएंगे हैरान !

वॉशिंगटनः ट्रंप किसे अपना सबसे बड़ा दुश्मन समझते हैं , जानकर आप हैरान रह जाएंगे। एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक बेशक दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमरीका के कई दुश्मनों में सबसे आगे नॉर्थ कोरिया (57%) है, उसके बाद ईरान (41%), सीरिया (32%), ईराक (29%) और रूस (22%) का नंबर आता है। अमरीका के इन टॉप-5 दुश्मनों को देखकर आपको ऐसा जरूर लगता होगा कि दुनिया का सबसे ताकतवर इंसान यानी अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ध्यान भी इन्हीं देशों या फिर अंतरराष्ट्रीय नीतियों पर लगा रहता होगा..लेकिन ऐसा है नहीं। उनके ट्वीट और तमाम टीवी इंटरव्यू देखकर तो ऐसा कतई नजर नहीं आता। 

अगर  ट्रंप के ट्विटर अकाउंट पर नजर डालें तो ज्यादातर संदेशों में उनका गुस्सा सिर्फ और सिर्फ मीडिया पर बरसता नजर आता है। हां, ये कह सकते हैं कि ज्यादातर राष्ट्रध्यक्ष अपने ट्विटर अकाउंट पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने देश के दुश्मनों का जिक्र नहीं करते, लेकिन ट्रंप के टीवी इंटरव्यू भी इस बात के गवाह हैं कि राष्ट्रपति बनने से लेकर अब तक मीडिया के प्रति  उनका गुस्सा और नजरिया एकतरफा ही रहा है। वैसे सिर्फ मीडिया ही नहीं, एक चीज और ऐसी है जिसको लेकर ट्रंप हमेशा से ही नकारात्मक विचार अपनाए हुए हैं और आए दिन उनके ट्वीट व बयान इस चीज पर वार करते हुए नजर आते हैं।

उनका ये दूसरा दुश्मन है 'ओबामाकेयर'। अमरीका में 23 मार्च 2010 को 'पेशेंट प्रोटेक्शन एंड एफोर्डेबल केयर एक्ट' को पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने हरी झंडी दी थी। इसे बाद में ओबामाकेयर के नाम से बुलाया जाने लगा। इसके तहत अस्पतालों व डॉक्टरों (फिजीशियन) को आर्थिक और तकनीकी रूप से अपने काम में तब्दीली लाने का आदेश हुआ था ताकि कम पैसों में लोग बेहतर मेडिकल सुविधाओं का फायदा उठा सकें और इसका प्रभाव ज्यादा से ज्यादा स्थानों तक पहुंच सके। हालांकि ट्रंप के हिसाब से ओबामाकेयर कहींं से भी सफल होता नजर नहीं आया है और आए दिन वो इसकी आलोचनाएं करते नजर आतेे रहते हैं।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !