सीरिया जेलों में हो रही सामूिहक हत्याएं, रोज जलाए जा रहे 50 शव

Tuesday, May 16, 2017 6:20 PM
सीरिया जेलों में हो रही सामूिहक हत्याएं, रोज जलाए जा रहे 50 शव

वॉशिंगटनः अमरीका ने आरोप लगाया है कि सीरिया सरकार अपने विरोधियों की सामूहिक हत्याएं करा रही है। वो लोगों को जेल में बंद करती है और वहीं पर मारकर हर दिन 50 से ज्यादा शवों को जला देती है। ये कुछ कुछ नाजी जर्मनी के यातनागृहों जैसा है, जिसमें द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान हिटलर के आदेश पर नरसंहार को अंजाम दिया जाता था। अमरीका ने रिपोर्ट्स और तस्वीरों का हवाला देकर ये आरोप लगाया है।

अमरीका का कहना है सीरिया अपने सहयोगियों रूस और ईरान के साथ मिलकर इन हत्याओं को अंजाम दे रहा है। इस अपराध में मॉस्को और तेहरान भी बराबर के साझेदार हैं। अमेरिका द्वारा जारी तस्वीरें सेटेलाइट से ली गई हैं, जिसमें जेल की छत पर बर्फ गलती दिख रही है। इस जेल में शवदाह की व्यवस्था है और यहां हर दिन सामूहिक हत्याओं के बाद लगभग 50 शव जलाए जा रहे हैं। सीरिया सरकार की ओर से साल 2013 में सैयदनाया कॉम्प्लैक्स में ही ये शवदाह गृह बनाया गया है। ईस्टर्न अफेयर्स के स्टेट ब्यूरो डिपार्टमैंट के कार्यवाहक असिस्टेंट सेक्रेटरी स्टुअर्ट जोन्स ने रिपोर्टरों से दमास्कस के उत्तरी ओर बने मिलटिरी जेल के बारे में बताते हुए ये जानकारी दी।

एमनेस्टी इंटरनैशनल की रिपोर्ट की मानें तो साल 2011 से 2015 के बीच इस जेल में करीब 5000 से 11000 लोगों की हत्याएं हुई हैं। अगर ये आरोप सही हैं, तो ये असद सरकार पर मावनाधिकार के खिलाफ अपराध का मामला बनता है लेकिन एमनेस्टी इंटरनैशनल की ये रिपोर्ट कई महीने पुरानी है और अमरीका की तरफ से ऐसी कोई इंटेलीजेंस रिपोर्ट नहीं मिली है। एमनेस्टी इंटरनैशनल की रिपोर्ट  की मानें तो ये सभी आंकड़े दिसंबर 2015 तक के हैं। पर ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है कि ऐसी हत्याएं अब रुक चुकी हों। इस पूरे मामले की जांच की जरूरत है।
 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !