अमरीका में भारतीय को मुस्लिम समझकर हमला

Saturday, March 18, 2017 2:41 PM
अमरीका में भारतीय को मुस्लिम समझकर हमला

वॉशिंगटनः एक अमरीकी शख्स पर भारतीय मूल के एक अमरीकी व्यक्ति पर हमला और नस्लभेदी टिप्पणियां करने के आरोप में घृणा अपराध का मामला दर्ज किया गया है । आरोपी ने पीड़ित को मुस्लिम समझकर उसपर हमला किया था। पेनसिल्वेनिया के बेथेल पार्क के रहने वाले 54 साल के जेफरी एलेन बर्जेस पर आरोप है कि उसने 22 नवंबर को अंकुर मेहता पर नस्ल, रंग और राष्ट्रीयता के बारे में धारणा बनाकर उसे जानबूझकर नुकसान पहुंचाया।

 पिट्सबर्ग ट्रिब्यून-रीव्यू की रिपोर्ट के मुताबिक, एक फेडरल ग्रैंड जूरी ने कल बर्जेस को घृणा अपराध के मामले में अभ्यारोपित किया। बर्जेस ने साउथ हिल्स विलेज के रेड रॉबिन रेस्तरां में इस हमले को अंजाम दिया था। दोषी पाए जाने पर बर्जेस को 10 साल तक की जेल की सजा हो सकती है या उसे अढ़ाई लाख अमरीकी डॉलर का जुर्माना देना पड़ सकता है या उसे दोनों सजा सुनाई जा सकती है। इस मामले पर बात करते हुए एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि रेस्तरां में आरोपी अमरीकी मेहता के बराबर में बैठा हुआ था।

जहां पर आरोपी ने पहले तो मेहता पर अभद्र टिप्पणी करना शुरु किया और फिर इसके बाद वह बार-बार अपनी कोहनी मेहता के सिर पर मारता रहा। आरोपी ने मेहता को परेशान करते हुए कहा कि मैं नहीं चाहता कि तुम मेरे बराबर में बैठो। चश्मदीदों के मुताबिक आरोपी ने मेहता के सिर पर चार-पांच बार वार किया जिसके बाद उसे सेंट क्लेयर अस्पताल में भर्ती कराया गया। यह पहला मामला नहीं है जहां पर अमरीकी द्वारा भारतीय के साथ ऐसा किया गया है।

इससे पहले 22 फरवरी को कंसास के एक बार में भारतीय मूल के रहने वाले अमरीकी श्रीनिवास कुछीभोटला और अलोक मदासनी को गोली मार दी गई थी, जिसमें अस्पताल में इलाज के दौरान श्रीनिवास की मौत हो गई थी। वहीं 3 मार्च को भारतीय मूल के एक सिख को यह कहकर गोली मार दी गई थी कि वापस अपने देश वापस चले जाओ। इसी के साथ 2 मार्च को 43 वर्षीय भारतीय मूल के एक व्यवसायी की उसके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !