पाकिस्तानी अदालत ने दिया इस कानून में बदलाव का सुझाव

Saturday, August 12, 2017 5:58 PM
पाकिस्तानी अदालत ने दिया इस कानून में बदलाव का सुझाव

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की एक अदालत ने सरकार से विवादास्पद ईशनिंदा कानून में बदलाव करने को कहा है ताकि निजी स्वार्थों के लिए इसके दुरूपयोग को रोका जा सके और इससे जुड़े अपराध के लिए किसी पर झूठा आरोप लगाने वाले व्यक्ति को सख्त सजा मिल सके।   


डॉन की खबर के मुताबिक इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति शौकत अजीज सिद्दीकी ने सुझाव दिया कि संसद को अवश्य ही इसका दुरूपयोग करने वाले या, ईशनिंदा का किसी पर झूठा आरोप लगाने वाले व्यक्ति के खिलाफ सख्त कानून का प्रावधान करना चाहिए।न्यायाधीश ने कहा कि अपनी निजी दुश्मनी को लेकर लोग अपने प्रतिद्वंद्वियों को ईशनिंदा के मामलों में घसीट देते हैं। इससे न सिर्फ आरोपी का, बल्कि उसके परिवार और रिश्तेदारों का जीवन जोखिम में पड़ जाता है। गौरतलब है कि पाकिस्तान में ईशनिंदा बहुत ही संवेदनशील मुद्दा है और इसके आरोपी चरमपंथियों का आसान निशाना बन गए हैं।  



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!