इरमा प्रभावित फ्लोरिडा वासियों की मदद के लिए भारतीय-अमरीकियों ने बढ़ाया हाथ

Monday, September 11, 2017 3:55 PM
इरमा प्रभावित फ्लोरिडा वासियों की मदद के लिए भारतीय-अमरीकियों ने बढ़ाया हाथ

वाशिंगटन: अटलांटा और जॉर्जिया में भारतीय मूल के अमरीकी नागरिक इरमा तूफान से प्रभावित फ्लोरिडा के कई लाख लोगों की मदद करने के लिए अपने संसाधन साझा कर रहे हैं। फ्लोरिडा के दक्षिणी द्वीपों पर कल इरमा का कहर बरपा जिसमें 4 लोगों की जान चली गई। लाखों लोगों को घर-बार छोड़ना पड़ा और सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा। उनमें हजारों भारतीय मूल के अमरीकी नागरिक भी शामिल हैं।
PunjabKesariफ्लोरिडा में 2010 की जनगणना के मुताबिक तकरीबन 1,20,000 भारतीय-अमरीकी रहते हैं जिनमें से हजारों लोग मियामी, फोर्ट लॉरा और टांपा क्षेत्रों में रह रहे हैं। ये इलाके खतरे की दृष्टि से बहुत संवेदनशील हैं। फ्लोरिडा में इतनी बड़ी संख्या में भारतीय-अमरीकियों की जनसंख्या को देखते हुए, अमरीका में भारत के राजदूत, नवतेज सरना ने राहत बचाव कार्यों और स्थानीय सामुदायिक नेताओं से तालमेल बिठाने के लिए न्यूयॉर्क में अपने महावाणिज्य दूत को अटलांटा भेजा।
PunjabKesariन्यूयॉर्क में महावाणिज्य दूत संदीप चक्रवर्ती के नेतृत्व में अटलांटा महावाणिज्य दूतावास के अधिकारियों ने कई राहत शिविरों का दौरा कर लोगों का हालचाल लिया।  
PunjabKesari
स्थानीय निवासियों की मदद से, सेवा इंटरनेशनल ने शरणार्थियों के लिए तब तक रहने की व्यवस्था की है जब तक फ्लोरिडा में स्थिति नहीं सुधरती है। अटलांटा में रहने वाले भारतीय-अमरीकियों ने फ्लोरिडा के विस्थापितों के लिए अपने घर के दरवाजे खोल दिए हैं और उनके लिए अतिरिक्त भोजन की व्यवस्था भी की है।  
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!