जाधव मामला : ICJ में हार के बाद नवाज सरकार पर बिफरा पाकिस्तानी मीडिया

Friday, May 19, 2017 10:39 AM
जाधव मामला : ICJ में हार के बाद नवाज सरकार पर बिफरा पाकिस्तानी मीडिया

इस्लामाबाद: इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) से कुलभूषण सुधीर जाधव की फांसी के मामले में करारी हार मिलने के बाद पाकिस्तानी मीडिया ने अपनी ही सरकार को जमकर लताड़ा। 


ICJ के फैसले की कड़ी आलोचना 
पाक मीडिया ने जाधव की फांसी पर ICJ की ओर से रोक लगाए जाने के बाद पाकिस्तानी मीडिया ने न केवल नवाज शरीफ सरकार बल्कि ICJ के फैसले की भी कड़ी आलोचना की है।


पाक मीडिया का असली चेहरा आया सामने
पाकिस्तान से प्रकाशित होने वाले एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने लिखा है कि 'कुलभूषण जाधव की फांसी पर इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले पर इमरान खान ने नवाज शरीफ को जिम्मेदार ठहराया'। 


पाकिस्तान से प्रकाशित दुनिया नामक अखबार ने पहले पन्ने पर इस मामले से जुड़ी करीब चार खबरों को जगह दी हैं, जिसमें उसने नवाज शरीफ सरकार, इंटरनेशनल कोर्ट और भारत के खिलाफ आग उगली है। पाकिस्तान से प्रकाशित दुनिया नामक अखबार ने अपनी हेडलाइन में ही प्रहार करते हुए लिखा है कि 'कुलभूषण को फांसी ना दी जाए, इंटरनेशनल कोर्ट खाक।' 


एक अन्य अखबार तारीख-ए-इंसाफ ने लिखा है कि 'इंटरनेशनल कोर्ट ने अनुभवहीन वकील चुना'। वहीं, अंग्रेजी अखबार 'द न्यूज़ इंटरनेशनल' ने लिखा है कि 'आईसीजे ने भारतीय जासूस की फांसी पर अंतिम निर्णय होने तक रोक लगाई'।


पाकिस्तान के लगभग सभी अखबारों के मुताबिक विपक्षी दलों खासकर पीटीआई और जमात-ए-इस्लामी ने तो सरकार को आड़े हाथों लिया। वहीं इस मामले पर पाकिस्तान के कई कानूनी जानकारों और दूसरी राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के बयान भी अखबारों में छपे हैं। जिसमें बकायदा प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का नाम लेकर कहा गया है कि उनकी टीम अच्छी नहीं थी और वो इंटरनेशनल कोर्ट में अनुभवहीन लोगों को लेकर गए थे।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !