अच्छा तो इसलिए मनाया जाता है हिंदी दिवस, पढ़े छोटी-सी दिलचस्प कहानी

Thursday, September 14, 2017 12:54 PM
अच्छा तो इसलिए मनाया जाता है हिंदी दिवस, पढ़े छोटी-सी दिलचस्प कहानी

जालंधरः 14 सिंतबर को भारत में हिंदी दिवस मनाया जाता है। इस दिन संव‍िधान सभा ने ह‍िंंदी को भारत की आध‍िकार‍िक भाषा का दर्जा द‍िया था। यानी इसे राजभाषा बनाया गया था। तब से हर साल यह दिन हिंदी दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

 

जानें हिंदी दिवस मनाने की पूरी कहानी

साल 1947 में जब अंग्रेजी हुकूमत से आजाद हुआ तो देश के सामने भाषा को लेकर सबसे बड़ा सवाल था। क्योंकि भारत में सैकड़ों भाषाएं और बोलियां बोली जाती है। ऐस में कौन-सी भाषा चुनी जाए यह तय करना काफी मुश्किल था। काफी सोच विचार के बाद हिंदी और अंग्रेजी को नए राष्ट्र की भाषा चुना गया था। 

 

14 सितंबर 1949 को संविधान सभा ने एक मत से निर्णय लिया कि हिंदी ही भारत की राजभाषा होगी। उस मौके पर देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने कहा कि इस दिन के महत्व देखते हुए हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाए। बता दें पहला हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 में मनाया गया था। लेकिन अंग्रेजी भाषा को हटाए जाने की खबर पर देश के कुछ हिस्सों में विरोध प्रर्दशन शुरू हो गया था। तमिलनाडू में जनवरी 1965 में भाषा विवाद को लेकर दंगे भी हुए थे।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!