जानिए, अलग-अलग इच्छाअों की पूर्ति के लिए कौन से भगवान को प्रज्वलित करें दीपक

Tuesday, February 28, 2017 12:55 PM
जानिए, अलग-अलग इच्छाअों की पूर्ति के लिए कौन से भगवान को प्रज्वलित करें दीपक

भगवान की सच्चे मन से पूजा करने पर वे अपने भक्तों के सारे कष्ट हर लेते हैं। यदि अपनी इच्छा के अनुसार संबंधित देवी-देवता को दीपक प्रज्वलित किया जाए तो व्यक्ति की हर मनोकामना पूर्ण होती है। धन प्राप्ति, बुरे स्वप्नों से मुक्ति, नौकरी में तरक्की आदि इच्छाअों की पूर्ति होती है। जानिए, कौन सी इच्छा के लिए कौन से भगवान को दीपक प्रज्वलित करना चाहिए। 

 

भगवान कुबेर को धन का देवता माना जाता है। घर के मंदिर की उत्तर दिशा में भगवान कुबेर की प्रतिमा स्थापित कर प्रतिदिन दीपक प्रज्वलित करें। इससे धन की प्राप्ति के योग बनते हैँ। 

 

अपने मित्रों या जीवन साथी से प्यार पाने के इच्छुक घर के मंदिर में भगवान श्रीकृष्ण की प्रतिमा स्थापित कर नियमित उनकी पूजा करें। 

 

बीमारियों से मुक्ति पाने हेतु घर के मंदिर में भगवान सूर्य की प्रतिमा या चित्रपट स्थापित कर प्रतिदिन उन पर जल अर्पित कर दीपक प्रज्वलित करें।  

 

श्रीगणेश की प्रतिमा घर या दुकान के मंदिर में स्थापित कर प्रतिदिन दीपक या अगरबत्ती जलाएं। इससे व्यापार व नौकरी में तरक्की होती है। 

 

बुरे व डरावने सपनों से मुक्ति पाने के लिए मंदिर में रामभक्त हनुमान की पंचमुखी प्रतिमा स्थापित कर प्रतिदिन उनकी पूजा करें। 

 

घर या दुकान में देवी लक्ष्मी की प्रतिमा या चित्रपट स्थापित कर प्रतिदिन दीपक प्रज्वलित करें। इससे देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होगी अौर आय के साधनों में भी वृद्धि होगी। 

 

नौकरी में उन्नति अौर सफलता पाने के लिए भगवान विष्णु की पूजा करें। भगवान विष्णु के साथ देवी लक्ष्मी की पूजा करना बहुत शुभ होता है। 

 

बच्चों के कमरे में देवी सरस्वती की प्रतिमा या चित्रपट स्थापित कर प्रतिदिन दीपक प्रज्वलित करें। ऐसा करने से परीक्षाअों मे विद्यार्थियों को सफलता मिलेगी। 

 

पारिवारिक सदस्यों या मित्रों से लड़ाई-झगड़े होते हैं तो घर के मंदिर में भगवान शिव की प्रतिमा या चित्रपट स्थापित करें। 

 

घर के मंदिर में भगवान श्रीराम, लक्ष्मण अौर देवी सीता की प्रतिमा स्थापित करें। इसे घर-परिवार में सुख-शांति अौर प्यार बना रहेगा। 


 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन