इन बातों पर करेंगे अमल तो जीवन में आएगी सुख-शांति व सम्पन्नता

Sunday, February 4, 2018 3:04 PM
इन बातों पर करेंगे अमल तो जीवन में आएगी सुख-शांति व सम्पन्नता

आजकल समाज में परिवारों में अत्यधिक असंतोष की भावनाएं लोगों में देखी जाती हैं। इस असंतोष के लिए कभी जातक अपने ग्रहों को दोष देते हैं और कई बार इसको वास्तु दोष भी मानते हैं। मगर इसका मूल कारण है कि हम लोग प्रकृति से प्राप्त होने वाले सुखी-सम्पन्न रहने के नियमों से दूर हो गए हैं। हमारे मनिषियों ने सुखी, स्वस्थ, शांतमय जीवनयापन के लिए कुछ नियम निर्देशित किए थे, जिनको अगर हम अपने दैनिक जीवन में सम्मलित कर लें तो उससे हमारे जीवन में स्वत: सुख-शांति और सम्पन्नता आ सकती है-

घर में कभी भी झाड़ू को खड़ा करके न रखें, उसे पैर भी नहीं लगाएं न ही उसके ऊपर से गुजरें अन्यथा घर में बरकत की कमी हो जाती है। झाड़ू हमेशा छुपा कर रखें। मुख्य द्वार के पास कभी भी कूड़ादान न रखें, इससे पड़ोसी शत्रु हो जाएंगे।


छत पर कभी भी अनाज या बिस्तर न धोएं- हां, सुखा सकते हैं। इससे ससुराल से संबंध खराब होने लगते हैं।


खूब फल खाओ स्वास्थ्य के लिए अच्छे हैं लेकिन उनके छिलके कूड़ादान में न डालें, बल्कि बाहर फैंकें, इससे मित्रों से लाभ होगा।


माह में एक बार किसी भी दिन घर में मिश्रीयुक्त खीर जरूर बनाकर परिवार सहित एक साथ खाएं अर्थात जब पूरा परिवार घर में इकठ्ठा हो उसी समय खीर खाएं, तो मां लक्ष्मी की जल्दी कृपा होगी।


माह में एक बार अपने कार्यालय में भी कुछ मिष्ठान जरूर ले जाएं, उसे अपने साथियों के साथ या अपने अधीन नौकरों के साथ मिलकर खाएं तो धन लाभ होगा।


रात्रि में सोने से पहले रसोई में बाल्टी भरकर रखें, इससे कर्ज से शीघ्र मुक्ति मिलती है और यदि बाथरूम में बाल्टी भर कर रखेंगे तो जीवन में उन्नति के मार्ग में बांधा नहीं आएगी।


बृहस्पति के दिन घर में कोई भी पीली वस्तु अवश्य खाएं, हरी वस्तु न खाएं तथा बुधवार के दिन हरी वस्तु खाएं लेकिन पीली वस्तु बिल्कुल न खाएं इससे सुख- 
समृद्धि बढ़ेगी।


रात्रि को जूठे बर्तन कदापि न रखें। इन्हें पानी से निकाल कर रख सकते हैं, हानि से बचेंगे।


स्नान के बाद गीले व एक दिन पहले के प्रयोग किए गए तैलिए का प्रयोग न करें। इससे संतान हठी व परिवार से अलग होने लगती है। अपनी बात मनवाने लगती हैं, अत: रोज साफ-सुथरा और सूखा तौलिया ही प्रयोग करें।


कभी भी यात्रा में पूरा परिवार एक साथ घर से न निकलें। आगे-पीछे जाएं, यात्रा में ले जाने वाले सूटकेस, सामान इत्यादि पर हल्दी के छींटे मार दें, इससे यात्रा सुखद एवं यश में वृद्धि होगी।


घर में सुबह-सुबह कुछ देर के लिए भजन अवश्य लगाएं।


बिस्तर पर बैठ कर कभी खाना न खाएं। ऐसा करने से धन की हानि होती है। लक्ष्मी घर से निकल जाती हैं। घर में अशांति होती है।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन