आज का गुडलक- इस योग में करें पूजन, हर तरह की Tension होगी दूर

Monday, September 4, 2017 7:08 AM
आज का गुडलक- इस योग में करें पूजन, हर तरह की Tension होगी दूर

सोमवार दि॰ 04.09.17 को भाद्रपद शुक्ल त्रियोदशी पर ओणम पर्व मनाया जाएगा। यह पर्व सिंह संक्रांति के बाद श्रावण नक्षत्र के आने पर मनाया जाता है। यह पर्व महादानी राजा बली व वामन अवतार को समर्पित है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार चंद्रमा शशित श्रवण नक्षत्र का भगवान विष्णु से गहरा संबंध है। वामन अवतार द्वारा लिए गए तीन पदचिन्हों को श्रवण नक्षत्र का प्रतीक माना जाता है। मान्यतानुसार इस दिन श्रीहरि की दूध, दही, चावल, चंदन व सफ़ेद पुष्पों व इक्षु से पूजा करने पर भौतिक लक्ष्यों की प्राप्ति होती है व आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। व्यक्ति के मानसिक विकार दूर होते हैं।


पूजन विधि: भगवान विष्णु के चित्र की विधिवत पूजा करें। गौघृत का दीप करें, चंदन धूप करें, चंदन, चावल, दही, दूध, सफ़ेद फूल और गन्ना के टुकड़ा चढ़ाएं। नैवेध में खीर का चढ़ाएं। इस विशेष मंत्र की 1 माला जपें। पूजा के बाद खीर बांट दें।


पूजन मुहूर्त: प्रातः 09:15 से प्रातः 10:15 तक। अथवा शाम 17:45 - 18:45 तक। 


पूजन मंत्र: ॐ वैष्ण-वर्क्ष-विभूषणाय नमः॥


विशेष महूर्त
अभिजीत मुहूर्त
: दिन 11:54 से दिन 12:44 तक।


अमृत काल: प्रत 10:29 से दिन 12:14 तक। 


यात्रा महूर्त: दिशाशूल - पूर्व। राहुकाल वास - वायव्य। अतः पूर्व व वायव्य दिशा की यात्रा टालें।


आज का गुडलक ज्ञान
गुडलक क
लर: सफेद।


गुडलक दिशा: दक्षिण-पूर्व।


गुडलक टाइम: दिन 14:55 से शाम 15:55 तक।


गुडलक मंत्र: ॐ विश्वात्मने नमः॥


गुडलक टिप: धन प्राप्ति के लिए भगवान विष्णु पर गन्ने के रस का भोग लगाएं।


गुडलक फॉर बर्थडे: मनोविकार से मुक्ति हेतु भगवान विष्णु पर दूध चढ़ाकर जल प्रवाह करें।


गुडलक फॉर एनिवर्सरी: जीवनसाथी संग भगवान विष्णु के मंदिर में चावल दान करने से गृहक्लेश मिटेगा।


आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com




विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !